जेटली ने लगाया आरोप- राहुल गांधी और ओलांद के बीच है सांठगांठ

ओलांदओलांद

नई दिल्ली। राफेल मुद्दे को लेकर भारत में सियासत एक बार फिर तब तूल पकड़ी जब फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने इसको लेकर एक बयान जारी किया। ओलांद ने अपने बयान  कहा था कि रफ़ाएल सौदे में अंबानी की कंपनी को चुनने में उनकी कोई भूमिका नहीं थी। जबकि  लिए प्रधानमंत्री मोदी ने सुझाव दिया था। ओलांद के इस बयान के बाद भारतीय राजनीति में एक बार फिर सुगबुगाहट तेज हो गयी। राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी पर प्रेस कांफ्रेंस कर निशाना साधा। अब वित् मंत्री अरुण जेटली ने एक टीवी चैनल को इंटरव्यू दिया है। जिसमें उन्होंने राफेल मुद्दे को लेकर अपना पक्ष स्पष्ट किया है।

फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने किया था खुलासा

साथ ही उन्होंने बताया कि राफेल मुद्दे को लेकर प्रधानमंत्री मोदी अब तक चुप क्यों हैं। अरुण जेटली ने कहा कि क्या विमान उच्च दर पर खरीदे गए हैं या नहीं, इसकी जांच का मामला CAG के पाले में है। हम प्रतीक्षा करेंगे, कैग तो आंकड़ों का विशेष संगठन है। इस दौरान अरुण जेटली ने कहा कि, ओलांद के बयान के पीछे राहुल गांधी और उनके बीच बड़ा सांठगांठ है। जेटली ने बताया कि 30 अगस्त को राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘पेरिस में कुछ धमाके होने वाले हैं’ और उसके बाद वही हुआ जैसा कि उन्होंने कहा था।’ उन्होंने कहा, ’30 अगस्त को ट्वीट करते हैं कि फ्रांस के अंदर कुछ बॉम्ब चलने वाले हैं। यह उनको कैसे मालूम कि बयान ऐसा आने वाला है। ये जो जुगलबंदी है इस तरह की, मेरे पास सबूत नहीं हैं लेकिन मन में प्रश्न खड़ा होता है।

ये भी पढ़ें : रांची से प्रधानमंत्री मोदी कर्नेगे आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत 

राहुल के चौकीदार चोर वाले बयान पर दिया जवाब

इस बीच राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी पर के ‘देश का चौकीदार चोर है’ का बयान दिया था। इस बयान पर अरुण जेटली ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, की ‘पब्लिक डिसकोर्स लाफ्टर चैलेंज नहीं है, कभी आप किसी को गले लगा लो, आंख मारो फिर गलत बयान 10 बार देते रहो। लोकतंत्र में प्रहार होते हैं लेकिन शब्दावली ऐसी हो जिसमें बुद्धि दिखाई दे।’ राहुल गांधी के ‘राफेल डील सेना पर सर्जिकल स्ट्राइक है’ वाले ट्वीट के जवाब में अरुण जेटली ने कहा, ‘यह बेहद आपत्तिजनक टिप्पणी है। सर्जिकल स्ट्राइक एक ऐसी चीज है, जिसपर देश को गर्व है। अगर आप इसे आपत्तिजनक तरह से देखते हैं, तो आपकी देशभक्ति पर सवाल उठना लाज़मी है।

loading...
Loading...

You may also like

सुप्रीम कोर्ट आज दे सकता गैर बीएस-6 मानक वाहनों की बिक्री पर फैसला

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट आज आटोमोबाइल निर्माताओं को