चतरा: नाबालिग से दुष्कर्म के बाद जिंदा जलाया, पंचायत ने सुनाया तुगलकी फरमान

चतराचतरा

चतरा। बलात्कार और हत्या के मामले धीरे-धीरे दरिंदगी का रूप लेते जा रहे हैं। ऐसा ही एक मामला झारखण्ड के चतरा जिले में देखा गया है। जहां एक नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म करने के बाद उसकी हत्या कर दी गई। साथ ही पीड़िता के परिजनों के साथ मारपीट भी की गई। इस मामले में चतरा पुलिस ने छह लोगों को गिरफ्तार किया है। जिसमें गांव की मुखिया तिलेश्वरी देवी और पंचायत समिति सदस्य सतीश भारती भी शामिल हैं। इनपर आरोप है कि भरी पंचायत में इन लोगों ने लड़की के साथ दुष्कर्म करने वालों पर तुगलकी फरमान सुनाया है। जिसमें मात्र 50 हजार रुपये जुर्माना और 101 बार उठक-बैठक करवाया गया है। पुलिस सभी आरोपियों को हिरासत में लेकर मामले की जांच कर रही है।

चतरा में पीड़िता के परिवार से की मारपीट

चतरा में नाबालिग के साथ दुष्कर्म के बाद जिंदा जलाने का मामला बेहद शर्मनाक है। समाज के निम्न सोच कका प्रमाण देते हुए पंचायत समिति ने पीड़िता और परिवार का उपहास करते नजर आई है। जिसमें पंचायत सदस्य सतीश भारती और मुखिया तिलेश्वरी देवी ने सभी आरोपियों के साथ तुगलकी फरमान सुनाते हुए सिर्फ 50 हजार रुपये का जुर्माना और 101 बार उठक- बैठक करने की सजा सुनाई है। इस घिनौनी करतूत को लेकर ग्राम पंचायत ही पीड़िता के परिवार के साथ नहीं कड़ी है तो पीड़ित परिवार न्याय के लिए कहा से हिम्मत जुटाएगी। लेकिन आरोपियों को यह सजा भी नागवार गुजरा। सजा के बाद ही आरोपी ने 3 युवक के साथ पीड़िता के घर में घुस गया और परिजनों के साथ भी जमकर मारपीट की।

इस घटना में चतरा पुलिस ने करवाई की और कोणी पंचायत स्थित राजा केंदुआ गांव को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया। मौके पर पहुंचे पुलिस उपाधीक्षक और एसडीपीओ समेत कई पुलिस अधिकारी ने घटना स्थल का जायजा लिया। गांव के लोगों से पूछताछ की जा रही है। बता दें कि इस मामले में कुल 12 लोगों के खिलाफ इटखोरी थाना में एफआईआर दर्ज की गई है।

ये भी पढ़ें: बिहार पुलिस दारोगा बहाली : प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम जारी, पास अभ्यर्थियों की देखें पूरी लिस्ट.. 

मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर जताया शोक

चतरा में घटे इस मामले में मुख्यमंत्री रघुवर दास ने ट्वीट कर शोक प्रकट किया। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘यह एक हृदयविदारक घटना है जिससे मैं काफी आहत हूं। सभ्य समाज में इस तरह की बर्बरता का कोई भी स्थान नहीं है।’ मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को तत्परता दिखाते हुए दोषियों के खिलाफ त्वरित और कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

ये भी पढ़ें :-फेसबुक आईडी हैक कर पत्रकार को फंसाने का षडयंत्र, डाला गलत पोस्ट

आईजी शम्भू ठाकुर का बयान

 चतरा के इटखोरी थाना क्षेत्र अंतर्गत राजा के दुआ गांव में हुए सामूहिक दुष्कर्म व हत्या मामले की जांच करनी चतरा पहुंचे आईजी शंभू ठाकुर ने कहा है कि घटना में संलिप्त 14 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी को लेकर सघन छापामारी अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जघन्य वह हृदय विदारक घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा। जल्द ही फरार अभियुक्तों को भी गिरफ्तार कर जेल भेज दिया जाएगा। उन्होंने कहा है कि पीड़ित परिवार को डरने की आवश्यकता नहीं है। उनकी सुरक्षा में गांव में पुलिस पदाधिकारियों व जवानों की तैनाती की गई है। जरूरत के मुताबिक आगे भी अधिकारी व जवान परिवार की सुरक्षा में तैनात रहेंगे।
loading...

You may also like

Asia cup: अंपायर के गलत फैसले पर भड़के एमएस धोनी

नई दिल्ली। Asia Cup 2018 में मंगलवार को