गार्गी किड्ज स्कूल ने ‘थर्स्टी क्रो’ के नाटक से दिया पानी बचाने का संदेश  

गार्गी स्कूल
Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। शुक्रवार को गार्गी किड्ज स्कूल की पल्लवपुरम ब्रांच में ‘‘थर्स्टी क्रो’ बाल नाटक का मंचन किया गया।

गार्गी स्कूल

स्कूल में जुलाई की थीम बर्ड एंड एनिमल के आधार पर बाल प्रतिभाओं ने प्रधानाधिपिका अर्चना यादव के साथ सभी शिक्षकों की मदद से कला कौशल का प्रदर्शन करते हुए अपनी प्रतिभा और क्षमताओं को रोचक अंदाज में दिखाया।

ये भी पढ़े : शिवसेना बोली मोदी सरकार 2019 का न करे इंतजार, भारत को हिंदू राष्ट्र करें घोषित

गार्गी स्कूल

बच्चों ने नाटक के जरिये जल संरक्षण का दिया संदेश

गार्गी स्कूल

‘थर्स्टी क्रो में प्यासे कौए को प्यास लगने और उसका पानी पीने के लिए कहीं और जाने के विचारों को एक अलग ही अंदाज में प्रस्तुत किया गया।

गार्गी स्कूल

नाटक के अंत में कौए की प्यास के समाधान के रूप में बच्चों ने जल संरक्षण का संदेश दिया।

गार्गी स्कूल

ये बी ही पढ़े : जगन्नाथ यात्रा: मुख्यमंत्री विजय ने रथ कीच की यात्रा की शुरुआत, लाखों श्रद्धालु हुए शामिल 

गार्गी किड्ज़ स्कूल के डायेरक्टर ने ‘जल ही जीवन है’ का समझाया महत्व 

गार्गी स्कूल

इस अवसर पर गार्गी किड्ज़ स्कूल के डायेरक्टर श्री विनीत गर्ग और ग्रुप कोऑर्डिनेटर निकिता सरोहा जी ने भी बच्चों को ‘जल ही जीवन है’ का महत्व बताया और बच्चो से पानी को बर्बाद न करने की सिफारिश भी की।

Related posts:

भाजपा के भ्रष्टाचार को उजागर करने और महंगाई को काबू में लाने को भाकपा ने किये प्रदर्शन और धरने
शहीद पथ पर चलती टैक्सी कार में लगी आग
अनमोल बेटियों ने किया द्वादश ज्योर्तिलिं के दर्शन
गंगा के मुकाबले गोमती नदी ज्यादा प्रदूषित
संदिग्ध हालात में मिले ज़ख़्मी युवक की मौत...
AC Bus किराए में 18 फीसदी तक कमी, यात्रियों को बड़ी राहत
समितियों के चुनाव में कहीं निर्विरोध तो कही अगवा कर चुनाव कराने से हंगामा...
मोहनलालगंज : तीन सालों से शादी का झांसा देकर पड़ोसी करता रहा किशोरी से यौन शोषण
यूपी में तेज धूप से तापमान में इजाफा की संभावना
अखिलेश यादव का बड़ा बयान, कहा- गठबंधन का मकसद बीजेपी को हराना नहीं
भ्रष्ट प्रबंधक हटाओ-नवयुग बचाओ के लिए माध्यमिक शिक्षक संघ ने किया शान्ति मार्च
कार्यशाला के माध्यम से एसएसबी को दी गई कष्टम एक्ट की जानकारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *