July 23, 2019
Breaking News

जानिए गूगल के आज के डूडल का क्या है मतलब, कहां शुरू हुई गर्मियां

Loading...
नयी दिल्ली। दुनियाभर में आज जहां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की धूम है वहीं आज गूगल कुछ अलग अंदाज में नजर आ रहा है। आज के दिन गूगल ने एक डूडल बनाया है जिसमें पृथ्वि और उस पर लगा पेड़ नजर आ रहा है। इस डूडल में कुछ अलग संदेश है और यह संदेश दुनिया के एक हिस्से में गर्मियों की शुरुआत को दर्शाता है।
Google Summer Doodle : जानिए गूगल के आज के डूडल का क्या है मतलब, कहां शुरू हुई गर्मियां

आज 21 जून है और आज से ही उत्तरी गोलार्ध में गर्मी की शुरुआत हो रही है। आज से लेकर अब 23 सितंबर तक गर्मी रहेगी और इसे Summer Solstice के रूप में जाना जाता है। वहीं दक्षिणी गोलार्ध में आज सबसे छोटा दिन होगा और वहां ठंड की शुरुआत हो गई है। आज से उत्तरी एक्वेटर रहने वाले लोगों को सूर्य ज्यादा समय तक नजर आएगा वहीं दक्षिणी गोलार्ध में कम दिखाई देगा। इतना ही नहीं आज भारत में दिन और रात बराबर होंगे और आज से ही जहां दिन छोटे होना शुरू होंगे वहीं रातें लंबी होने लगेंगी।

यह है पूरी कहानी

धरती का अपना भ्रमण और अपने अक्ष में 23.50 डिग्री झुकी होने के कारण दिन-रात होते हैं। इसी कारण दिन और रात के समय में अंतर आता है। इन दिनों सूर्य उत्तरी गोलार्द्ध से होकर गुजर रहा है और धरती के इस भाग में दिन लंबे होते हैं। इसके उलट दक्षिणी गोलार्द्ध में दिन छोटे और रातें लंबी हैं।

इसके अलावा यहां गर्मी का मौसम है तो दक्षिण गोलार्द्ध में भारी सर्दी पड़ रही है। यह चक्र पूरे साल चलता है। 21 जून को सूर्य कर्क रेखा के ठीक ऊपर होता है। कर्क रेखा वाले भाग में एक पल के लिए धरती पर स्थित किसी भी वस्तु की परछाई गायब हो जाती है। इस दिन को समर सोल्सटिस यानी ग्रीष्मकालीन संक्रांति कहा जाता है।

सितंबर में बराबर होंगे दिन-रात : आज दिन की अवधि करीब 13.45 घंटे की होगी, जबकि रात 10.35 घंटे में सिमट जाएगी। आज के बाद दिन की अवधि कम होनी शुरू हो जाती है और रातें लंबी होने लगेंगी। 21 या 22 सितंबर को दिन और रात का समय बराबर हो जाएगा। इसी तरह 21 अथवा 22 मार्च को दिन व रात बराबर होते हैं।

यह है Summer Solstice का मतलब

दरअसल, Solstice एक लेटिन भाषा के शब्द Solstitium से बना है जिसका मतलब होता है सूर्य रुका हुआ है। Solstice शब्द को परंपरागत रूप से चार मौसमों- बसंत, गर्मी, पतक्षड़ और सर्दी के बदलने के रूप में देखा जाता है। उत्तरी गोलार्ध में आने वाले चारों मौसम को इस शब्द से इंगित किया जाता है।

Loading...
loading...

You may also like

बीजेपी की संसदीय दल की बैठक में पीएम सहित शामिल कई नेता

Loading... 🔊 Listen This News नई दिल्ली। bjp