गुजरात चुनाव: रोड शो हुआ कैंसिल तो, पीएम मोदी नें पानी में उतारा सी-प्‍लेन

गुजरात चुनावगुजरात चुनाव

लखनऊ। गुजरात में चुनाव प्रचार के अंतिम दिन चुनावी सफर के लिए पीएम नरेंद्र मोदी ने सी-प्लेन का सहारा लिया है।

यह भी पढ़ें:-…और अब कांग्रेस में राहुल युग, चुने गए निर्विरोध अध्यक्ष

गुजरात चुनाव सी-प्‍लेन का मकसद-

  • अहमदाबाद में रोड शो की इजाजत न मिलने के बाद पीएम मोदी सी प्लेन की सवारी की।
  • अहमदाबाद गुजरात में दूसरे चरण के लिए चुनाव प्रचार के अंतिम दिन।
  • चुनावी सफर के लिए पीएम नरेंद्र मोदी ने सी-प्लेन का सहारा लिया है।
  • अहमदाबाद में रोड शो की इजाजत न मिलने के बाद।
  • पीएम मोदी सी प्लेन की सवारी की।
  •  साबरमती नदी में सी-प्लेन उतरा।
  •  सरदार ब्रिज से सी-प्लेन में पीएम मोदी बैठे जिससे धरोई डैम जाएंगे।
  •  यहां से फिर सड़क के रास्ते अंबाजी के दर्शन के लिए जाएंगे।
  • ये पहली बार होगा जब पीएम सी प्लेन की सवारी करेंगे।
  •  मकसद कांग्रेस को गुजरात का विकास दिखाना है।

गुजरात चुनाव सी-प्‍लेन का यह था मामला-

  • पीएम मोदी नेे सोमवार को एक चुनावी रैली में घोषणा की थी।
  • ‘‘मंगलवार को देश के इतिहास में पहली बार कोई सी-प्लेन साबरमती नदी पर उतरेगा।
  •  मैं धरोई बांध पर उतरने के बाद सी-प्लेन से अंबाजी जाऊंगा और वापस आऊंगा।
  • ’’ प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘हमारी पार्टी (भाजपा) ने कल मेरे रोडशो की योजना बनायी थी।
  • लेकिन प्रशासन ने उसकी मंजूरी नहीं दी।
  •  मेरे पास समय था, इसलिए मैंने सी-प्लेन से अंबाजी जाने का फैसला किया।
  • ’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमारे पास हर जगह हवाईअड्डे नहीं हो सकते।
  •  इसलिए हमारी सरकार ने ये सी-प्लेन लाने की योजना बनायी है’’।
  •  मंगलवार को अहमदाबाद में प्रधानमंत्री मोदी।
  • कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल।
  • के रोड शो को पुलिस ने इजाजत नहीं दी है।
  • पुलिस ने इस फैसले के पीछे कानून व्यवस्था का हवाला दिया है।
  • पुलिस ने कहा कि चुनाव आयोग रोड शो की इजाजत नहीं देता है।
  • रोड शो भीड़भाड़ वाले इलाके में होने थे।
  • जिससे लोगों को काफी परेशानी होती।
  • पुलिस ने यह भी बताया कि।
  • दोनों दलों ने जिन इलाकों में रोड शो निकालने की अनुमति मांगी थी।
  • उससे वह आपस में टकरा जाते और तनाव पैदा होने की आशंका थी।
loading...
Loading...

You may also like

दिल्ली सरकार पर एनजीटी ने ठोका 50 करोड़ का जुर्माना

नई दिल्ली। दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण की गाज