हरियाणा : अगले कैबिनेट विस्तार में शपथ ले सकते हैं जजपा के दो मंत्री

Loading...

चंडीगढ़। जजपा संयोजक और उपमुख्‍यमंत्री दुष्‍यंत चौटाला बेहद सधी चाल चल रहे हैं।  हरियाणा के नए मंत्रिमंडल मंं जननायक जनता पार्टी ने अपने कोटे से एक मंत्री बनाया है। इसको लेकर कई सवाल पैदा हो गए हैं। पूरे मामले में मनोहर मंत्रिमंडल में जजपा के एकमात्र मंत्री की एंट्री को पार्टी की रणनीति से जोड़कर देखा जा रहा है।

दुष्यंत चौटाला को 11 विभाग आवंटित

बृहस्पतिवार को मनोहर कैबिनेट में जजपा कोटे से दो कैबिनेट और एक राज्य मंत्री शपथ लेने की चर्चा थी लेकिन बाद में रणनीति बदल दी गयी । खबर आई कि कैबिनेट में जजपा कोटे का कोई मंत्री शामिल नहीं होगा। इस फैसले से पहले डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला को 11 विभाग आवंटित हो चुके थे।

10 मंत्रियों ने ली थी शपथ

बताया जाता है कि मंत्रिमंडल में शामिल होने को लेकर जजपा किसी तरह का उतावलापन नहीं दिखाना चाहती थी। इसलिए कैबिनेट में सिर्फ एक ही मंत्री शामिल कराया गया। मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री के अलावा हरियाणा कैबिनेट में 12 मंत्री बन सकते हैैं। बृहस्पतिवार को 10 मंत्रियों ने शपथ ली। बाकी बचे दो पदों पर जजपा कोटे के मंत्रियों के अगले कैबिनेट विस्तार में शपथ लेने की संभावना है।

जजपा विधायकों की बैठक

कैबिनेट के गठन वाले दिन सुबह के समय चंडीगढ़ स्थित यूपी गेस्ट हाउस में जजपा विधायकों की बैठक हुई, जिमसें दुष्यंत चौटाला भी शामिल हुए। सूत्रों के अनुसार जब विधायकों को यह पता चला कि मंत्रिमंडल में जजपा कोटे का कोई मंत्री शामिल नहीं हो रहा है तो दलील दी गई कि इसका प्रदेश में गलत संदेश जाएगा। इसलिए मंत्रिमंडल में जजपा कोटे से किसी विधायक की भी एंट्री जरूरी है।

बताया यह भी जाता है कि इस निर्णय से जजपा के कुछ विधायक असहज भी हुए, लेकिन माना जा रहा है कि दुष्यंत चौटाला उन्हें यह समझाने में कामयाब हो गए हैैं कि उचित मौके के हिसाब से सब कुछ ठीक रहता है।

Loading...
loading...

You may also like

भारतीय रिजर्व बैंक ने मौद्रिक नीति समीक्षा में नीतिगत दरों में कोई बदलाव नहीं

Loading... 🔊 Listen This News नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व