ख़ास खबरखेलराष्ट्रीय

हिना सिद्धू ने वीडियो शेयरिंग एप टिकटॉक के बैन होने पर खुशी की जाहिर

नई दिल्ली| राष्ट्रमंडल खेलों की दो बार की स्वर्ण पदक विजेता महिला निशानेबाज हिना सिद्धू ने मंगलवार को वीडियो शेयरिंग एप टिकटॉक के बैन होने पर खुशी जाहिर की है। टिकटॉक उन 59 चाइनीज एप में से है, जिसे भारत सरकार ने बैन किया है। इसे चीन के खिलाफ ‘डिजिटल सर्जिकल स्ट्राइक’ भी कहा जा रहा है। सरकार ने इस फैसले से चीन को सख्त संदेश दिया है। टिकटॉक के अलावा शेयर इट, यूसी ब्राउजर,यूसी न्यूज, हेलो, लाइकी, वीचैट, वीगो, कैम स्कैनर, क्लीन मास्टर जैसे एप के लिए भारत एक बहुत बड़ा बाजार था।

BCCI- फिलहाल आईपीएल रिव्यू मीटिंग की तारीख को लेकर फैसला नहीं

हिना ने ट्वीट करते हुए लिखा, “मैं इस बात से बेहद खुश हूं कि टिक-टॉक बैन हो गया। टिकटॉक पर काफी नफरत फैलाने वाले और जानवरों को हताहत करने वाले वीडियो मेरे सामने आ रहे थे… मैं खुश हूं। टिकटॉक के बिना इंटरनेट खुशी देने वाली जगह होगी।”

उन्होंने कहा, “यह अभी तक गया नहीं है, लेकिन मुझे उम्मीद है कि सरकार जल्दी इस पर कुछ कदम उठाएगी। जिम्मेदारी एप बनाने वाले पर भी है कि वह क्यों इस तरह के वीडियो अपलोड होने देते हैं, बल्कि वायरल भी होने देते हैं। जब तक वे वीडियो अपलोड करने के अपने नियम नहीं बदलते इस एप को हमारी जिंदगी में नहीं रहना चाहिए।”

नोवाक जोकोविच को मिला सर्बियाई प्रधानमंत्री का साथ

बता दें कि भारत सरकार ने सोमवार शाम (29 जून) को टिकटॉक, हेलो, वी-चैट समेत 59 चाइनीज ऐप्स को बैन कर दिया है। सरकार ने कहा कि ये ऐप देश की संप्रभुता, अखंडता और राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए हानिकारक हैं। आईटी मंत्रालय ने सोमवार को जारी एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि उसे विभिन्न स्रोतों से कई शिकायतें मिली हैं, जिनमें एंड्रॉइड और आईओएस प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध कुछ मोबाइल ऐप के दुरुपयोग के बारे में कई रिपोर्ट शामिल हैं।

loading...
Loading...