नरक चतुर्दशी पर ऐसे करें पूजा, यह है तीन शुभ मुहूर्त

- in धर्म

आप भी को बता दें कि आज छोटी दिवाली अर्थात नरक चतुर्दशी हैं यानी दिवाली से एक दिन पहले का दिन. आप सभी जानते ही हैं कि आज के दिन को हम दीप दान के नाम से जानते हैं और इस दिन घर के द्वार दीपक जलाए जाते हैं. वहीं छोटी दिवाली के दिन यम देवता की पूजा की जाती है साथ ही यह मान्यता है कि यम देवता की पूजा करके लोग अपने परिवार वालों के लिए नरक निर्वाण की कामना करते हैं. अब आइए जानें इस दिन किस तरह पूजा की जाती है.

पूजा के शुभ मुहूर्त –

सुबह: 9 बजकर 32 मिनट से 11 बजकर 45 मिनट तक.

दोपहर: 12 बजकर 05 मिनट से 1 बजकर 22 मिनट तक.

शाम: 5 बजकर 40 मिनट से 7 बजकर 05 मिनट तक.

आइए जानते हैं पूजन – आप सभी को बता दें कि नरक चतुर्दशी पर तेल लगाकर चिचड़ी की पत्तियां(चिचड़ी- चमत्कारी पौधा) पानी में डालकर स्नान करने से नरक से मुक्ति मिल जाती है और इस मौके पर ‘दरिद्रता जा लक्ष्मी आ’ कह घर की महिलाएं घर से गंदगी को घर से बाहर निकाल दें तो लाभ होता है.

अब आइए जानते हैं पूजन-विधि – इस दिन नहा धोकर सूर्य भगवान को अर्घ्य दें और संभव हो तो तिल का तेल लगाने के बाद नहाएं उसके साथ ही शरीर पर चंदन का लेप लगाकर नहा लें और भगवान कृष्ण की उपासना करें. वहीं शाम के समय घर की दहलीज पर दीप जलाएं और यम देव की पूजा करें और नरक चौदस के दिन भगवान हनुमान की पूजा भी करें. 

loading...
Loading...

You may also like

श्रीराम के भाई भरत का इस कुएं से क्या है सम्बन्ध

भारत में तीर्थ स्थलों और धार्मिक स्थानों की