हिमाचल: चुनाव से पहले बड़ी कार्रवाई, BJP ने 7 और कांग्रेस ने 3 नेता निष्कासित

शिमला। हिमाचल चुनाव से पहले बीजेपी और कांग्रेस का रुख अपने नेताओं के लिए बेहद ही सख्त दिखाई पड़ रहा है दोनों पार्टियाँ अपने नेताओं को बाहर का रास्ता दिखाने से तनिक भी परहेज नहीं कर रही हैं इसी क्रम में चुनाव में अधिकृत प्रत्याशियों के विरुद्ध चुनाव मैदान में बतौर निर्दलीय उम्मीदवार उतरने पर बीजेपी ने सात और कांग्रेस ने तीन बागी नेताओं को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया है।

भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती ने निष्कासन के पीछे कारण बताते हुए कहा है कि जिन बागी नेताओं के खिलाफ कार्रवाई की गई है। उनमें पूर्व विधायक चम्बा से डी. के. सोनी, पालमपुर से प्रवीन शर्मा, रेणुका से हृदय राम, भरमौर से ललित ठाकुर, फतेहपुर से बलदेव ठाकुर और जसवां से हंसराज का नाम शामिल हैं। इन सभी को पार्टी से 6 साल के लिये निष्कासित किया है।

बता दें कि बीजेपी ने जिन नेताओं को पार्टियों ने निष्कासित किया है। वे टिकट न मिलने से नाराज चल रहे हैं। इसके बाद इन बागी नेताओं ने निर्दलीय चुनाव लड़ने का फैसला किया था।

वहीं तरह कांग्रेस ने भी तीन और बागियों को पार्टी से निष्कासित कर दिया है। इनमें ऊना सदर से राजीव गौतम, कुटलैहड़ से शिव हरिपाल, पच्छाद से रत्न सिंह कश्यप हैं। पार्टी इससे पूर्व सात बागियों को पार्टी से निकाल चुकी है। ये शिमला शहरी से आजाद उम्मीदवार हरीश जनारथा, नालागढ से हरदीप बाबा, द्रंग से पुर्ण चंद ठाकुर, रामपुर से सिंघी राम, पालमपुर से बैनी प्रसाद, शाहपुर से विजय सिंह मनकोटिया और लाहौल स्फीति से राजेंदर कारपा हैं। पार्टी ने यह कार्रवाई प्रदेश प्रभारी सुशील कुमार शिंदे के निर्देश पर की है।

loading...
Loading...

You may also like

कांग्रेस राज से फैले भ्रष्टाचार को साफ करने के लिये नोटबंदी जैसी दवा थी जरुरी- मोदी

मध्यप्रदेश। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी