Hockey World Cup: शाहरुख़, गुलज़ार और ए.आर रहमान होंगे समारोह का आकर्षण

- in खेल, मनोरंजन

नई दिल्ली। ‘चक दे इंडिया’ फेम अभिनेता शाहरुख खान, ऑस्कर पुरस्कार विजेता संगीतकार एआर रहमान और गीतकार गुलजार 28 नवंबर को वर्ल्‍डकप हॉकी (Hockey World Cup 2018) के उद्घाटन समारोह में आकर्षण का मुख्य हिस्सा होंगे। इस समारोह के दौरान ओडिशा संस्कृति की बानगी भी देखने को मिलेगी।
ये भी पढ़ें:- यूथ ओलिंपिक गेम्स: मनु भाकर ने निशानेबाज में गोल्ड मेडल किया अपने नाम 

हॉकी के नये गढ़ बने भुवनेश्वर में चैम्पियंस ट्रॉफी (2014) , FIH World League Finals (2017) के बाद अब 28 नवंबर से 16 दिसंबर तक वर्ल्‍डकप का आयोजन किया जाएगा। जिसमें दुनिया भर से 16 टीमें भाग लेंगी। ओडिशा सरकार के खेल और पर्यटन विभाग के सचिव विशाल देव से मिली जानकारी के मुताबिक़ इस समारोह में शाहरुख खान नाच गाना नहीं बल्कि दुनिया को ओडिशा से रूबरू कराके यहां सभी का स्वागत करेंगे।

ये भी पढ़ें:- विश्व कप खेलना चाहता हूं पर किसी युवा खिलाड़ी की जगह लेकर नहीं- युवराज सिंह 

वहीं गुलजार और एआर रहमान भी समारोह का आकर्षण होंगे जिन्होंने वर्ल्‍डकप का थीम गीत बनाया है। देव ने यह भी बताया कि ओडिशा ने अपनी गरीबी और पिछड़े राज्य की छवि को तोड़कर कई बड़े खेल टूर्नामेंटों का सफल आयोजन किया है।वर्ल्‍डकप से पहले बुनियादी ढांचे को बेहतरीन बनाकर नए सिरे से संवारा जाएगा। उन्होंने कहा,‘वर्ल्‍डकप से पहले कला और साहित्य महोत्सव का आयोजन किया जायेगा जिसमें दुनिया के मशहूर सिंगर, डांसर और किस्सागो भाग लेंगे। इसके अलावा शहर में करीब 250 नई बसें भी चलाई जायेंगी जिनमें होहो बसें भी शामिल हैं।

ये भी पढ़ें:- मशहूर महिला बैडमिंटन खिलाड़ी ने #MeToo कैम्पेन में सुनाई आपबीती 

इसके साथ ही यहां फूड पार्क, हॉकी अड्डा बनेंगे और भुवनेश्वर के आसपास तमाम पर्यटन स्थलों जैसे पुरी, कोणार्क का बुनियादी ढांचा भी पहले से बेहतर किया जा रहा है। आपको बता दें कि वर्ल्‍डकप के सारे मैच कलिंगा स्टेडियम पर खेले जाएंगे जिसे नए सिरे से तैयार किया गया है।

स्टेडियम को नये सिरे से तैयार करने में करीब 82 करोड़ रुपये का खर्चा आ गया है। दो नई उत्तर और दक्षिण दीर्घायें बनाई गई हैं । दो नए गेट बनाये गए हैं ताकि दर्शकों को प्रवेश में किसी प्रकार की कोई दिक्कत न हो। वहीं स्टेडियम की क्षमता 7,500 से बढ़ाकर 15, 000 कर दी गई है।

ये भी पढ़ें:- यूथ ओलंपिक गेम्स: तबाबी देवी ने भारत को जुडो में दिलाया पहला मेडल 

भावी योजनाओं के बारे में उन्‍होंने बताया कि भुवनेश्वर में हॉकी के अलावा एथलेटिक्स और बैडमिंटन की अकादमियां भी स्थापित की जाएंगी। उन्होंने बताया कि इसके लिये अंतरराष्ट्रीय एथलेटिक्स संघ और भारतीय एथलेटिक्स महासंघ से सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए जा चुके हैं । भुवनेश्वर में पिछले साल एशियाई एथलेटिक्स चैम्पियनशिप का भी सफल आयोजन किया गया था। हालांकि, यह चैम्पियनशिप रांची में होनी थी लेकिन उसके हाथ खींचने के बाद 90 दिन के भीतर भुवनेश्वर ने मेजबानी की तैयारी की थी।

ये भी पढ़ें:- दिल्ली ओलम्पिक गेम्स-2018 का आयोजन 10 से 20 अक्टूबर तक 

उन्होंने कहा,‘बैडमिंटन अकादमी का संचालन पुलेला गोपीचंद करेंगे जबकि एथलेटिक्स अकादमी अगले दो महीने में शुरू हो जाएगी। इन अकादमियों में देशभर से बच्चों का चयन किया जाएगा। इन्हें मशहूर कोचों, फिजियों, आहार विशेषज्ञों की सेवायें मिलेग । इसके अलावा प्रतिभा तलाश कार्यक्रम भी शुरू करने की योजना है।

loading...
Loading...

You may also like

सुपरस्टार रजनीकांत अब इस एक्शन फिल्म में आएंगे नजर

सुपरस्टार रजनीकांत का कहना है कि उनकी आगामी तमिल