पत्नी के चरित्र पर संदेह होने पर पति ने बोटी-बोटी काटकर नदी में फेंका

बोटी-बोटी काटकरबोटी-बोटी काटकर

सिद्धार्थनगर। जनपद के खेसरहा थाना क्षेत्र के कुड़जा गांव में एक व्यक्ति द्वारा अपनी पत्नी की बोटी-बोटी काटकर बोरी में भर कर राप्ती नदी में फेंकने का मामला प्रकाश में आया है।

खेसरहा थाना क्षेत्र के कुड़जा गांव निवासी दूधनाथ यादव को अपनी पत्नी सुमित्रा (45) के चरित्र पर संदेह था। उसने शनिवार की रात नौ बजे पत्नी को बहला-फुसलाकर गांव के पश्चिम राप्ती नदी के किनारे अपने बाग में ले गया।

बाग में धारदार हथियार से उसके कई टुकड़े करके बोरी में भरकर राप्ती नदी में फेंक दिया। घटना की जानकारी मृतका के मायके वालों को हुई तो उन लोगों ने पुलिस को सूचना दी।

सूचना पाकर पुलिस ने मृतका के पति दूधनाथ को हिरासत में ले लिया। उसने पुलिस के समक्ष अपना जुर्म स्वीकार कर लिया। पुलिस बुधवार को उसके बताए स्थान पर गोताखोरों की मदद से राप्ती नदी में लाश के टुकड़ों को ढूंढ रही है लेकिन शाम तक पता नहीं चल सका।

आरोपी के विरुद्ध धारा 302, 201 के तहत केस दर्ज कर उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया है।

loading...
Loading...

You may also like

विधान परिषद सभापति रमेश यादव के बेटे अभिजीत की गला घोंटकर हत्या

लखनऊ। विधान परिषद सभापति रमेश यादव के बेटे