तीन तलाक पर कांग्रेस सांसद का विवादित बयान, कहा- श्रीराम ने भी तो सीता को छोड़ा था

तीन तलाकतीन तलाक

नयी दिल्ली। तीन तलाक बिल पास करवाने के लिए मोदी सरकार ने इसमें तीन संशोधन किये वहीं दूसरी तरफ से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हुसैन दलवाई का एक बेहद विवाद बयान सामने आया है। उन्होंने तीन तलाक बिल संशोधन पर विवादित बयान देते हुए भगवान राम और माता सीता के साथ इसे जोड़ दिया। उनके इस बयान के बाद उनकी चौतरफा आलोचना हो रही है।

पढ़ें:- राफेल डील पर आक्रामक हुआ विपक्ष, तीन तलाक बिल लटकने के पूरे आसार 

कांग्रेस सांसद का भगवान राम को लेकर विवादित बयान

तीन तलाक बिल संशोधन पर बोलते हुए कांग्रेस सांसद हुसैन दलवाई ने कहा कि महिलाओं के साथ हर धर्म में गलत तरीके से व्यवहार होता रहा है। ये ना सिर्फ मुसलमालों में है बल्कि हिंदू, सिख, ईसाईयों सभी में ऐसा देखा जाता है। उन्होंने कहा कि हर समाज में पुरुष की प्रधानता को माना जाता है। यहां तक कि खुद भगवान रामचंद्र जी ने एक बार सीता जी को शक के आधार पर छोड़ दिया था। लिहाजा हमे इस पूरे बिल को बदलने की जरुरत है।

पढ़ें:- महागठबंधन को जोरदार झटका, इस बड़ी पार्टी ने अकेले चुनाव लड़ने का किया ऐलान 

विवाद के बाद सांसद को देनी पड़ी सफाई

इस मामले विवाद बढ़ने के बाद हुसैन दलवाई को सफाई देनी पड़ी। उन्होंने कहा कि वह खुद माता सीता के भक्त हैं। लेकिन जो उन्होंने कहा वह हिंदू धर्म में महिलाओं के साथ हो रहे व्यवहार को दर्शाने के लिए कहा था। कांग्रेस नेता ने आगे बोलते हुए कहा कि प्राचीन काल में किस तरह से महिलाओं ने मुश्किल समय झेला है। वह उस बारे में अपने विचार रख रहा था। मोदी सरकार मुस्लिम महिलाओं की भलाई के लिए गंभीर नहीं है।

मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि सरकार दावा कर रही है कि वह मुस्लिम महिलाओं को और ताकत दे रही है और उन्हें मजबूत कर रही है। बल्कि सच्चाई यह है कि वह लोगों की आंखों में धूल झोंकने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि वह मूल रूप से इस बिल का विरोधकरते हैं। सरकार चुनिंदा लोगों को इस बिल के माध्यम से निशाना बनाने का प्रयास कर रही है।

loading...
Loading...

You may also like

अमृतसर हादसा : ट्रेन ड्राईवर ने कहा- इमरजेंसी ब्रेक के बाद भी नहीं रुकी ट्रेन

अमृतसर। अमृतसर में बड़े रेल हादसे के बाद