Tech/Gadgetsख़ास खबरराष्ट्रीयव्यापार

कोरोना संकट के बीच हुंडई ने मई में 5,000 वाहनों का किया निर्यात

नई दिल्ली। कोरोना महामारी और लॉकडाउन के कारण अप्रैल की काली छाया से ऑटो सेक्टर अब धीरे-धीरे ही सही मुक्त हो रहा है। अप्रैल ऑटो सेक्टर के लिए के लिए एक बुरा महीना साबित हुआ था। लॉकडाउन के चलते मारुति समेत कई कंपनियों की बिक्री शून्य रही। ऐसे में एक अच्छी खबर हुंडई मोटर्स से आ रही है।

हुंडई मोटर इंडिया लि. (एचएमआईएल) ने इस महीने 5,000 से अधिक वाहनों का निर्यात किया है। कंपनी के चेन्नई कारखाने में दोबारा उत्पादन आठ मई को शुरू हुआ था।एचएमआईएल ने बयान में कहा कि कंपनी सरकार के मेक इन इंडिया कार्यक्रम के प्रति प्रतिबद्ध है। इसी के अनुरूप मई में कंपनी ने 5,000 से अधिक वाहनों का निर्यात किया है।

एचएमआईएल के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) एस एस किम ने कहा, ”हम एक बार फिर शांत तरीके से चीजों को सामान्य करना शुरू कर दिया है। मई में हम 5,000 से अधिक वाहनों का निर्यात कर चुके हैं। कंपनी ने भारत से वाहनों का निर्यात 1999 में शुरू किया था।

किम ने कहा कि कंपनी अब तक भारत से चार महाद्वीपों के 88 देशों को 30 लाख से अधिक वाहनों का निर्यात कर चुकी है।  पिछले कैलेंडर वर्ष में कंपनी ने 1,81,200 वाहनों का निर्यात किया था। एचएमआईएल ने कहा कि 2019 में देश से कुल वाहन निर्यात में उसका हिस्सा 26 प्रतिशत का था। कंपनी फिलहाल वेन्यू और क्रेटा सहित देश से 10 मॉडलों का निर्यात करती है।

loading...
Loading...