अगर मै गलत था तो हमें उसके लिए खेद है : दलाई लामा

दलाई लामादलाई लामा

नई दिल्ली। तिब्बत के आध्यात्मिक गुरू दलाई लामा ने कुछ दिन पहले एक बयान दिया था। जिस बयान ने भारतीय राजनीति में उथल पुथल मचा दिया। आज दलाई लामा ने उसी बयान को लेकर माफ़ी मागी है।

महात्मा गांधी जिन्ना को प्रधानमंत्री का पद देने के बेहद इच्छुक थे : दलाई लामा

आप को बता दे गोवा के पणजी में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए दलाई लामा ने कहा था की मुझे लगता है कि महात्मा गांधी जिन्ना को प्रधानमंत्री का पद देने के बेहद इच्छुक थे। लेकिन नेहरू जी को जिन्ना को भारत प्रधानमंत्री देखना स्वीकार नहीं था। वे तो खुद को प्रधानमंत्री बनते हुए देखना चाहते थे और उस काम में सफल भी हो गए।

पढ़े : ODOP समिट में राष्ट्रपति ने कहा- यूपी से चुनाव लड़ने वाला प्रधानमंत्री बनने का सौभाग्य पाता है 

अगर उन्होंने महात्मा गांधी की सोच को स्वीकार किया होता, तो शायद आज भारत और पाकिस्तान एक होते। उनके इस बयान पर काफी हंगामा हुआ था। कई राजनीतिक दलों ने इस बयान पर आपत्ति जताई थी। इस बयान पर विवाद बढऩे के बाद उन्होंने माफी मांगी है उन्होंने कहा कि अगर मेरा बयान गलत था, तो मैं उसके लिए माफी मांगता हूं।

 

loading...
Loading...

You may also like

रेप से बचने के लिए निर्वस्त्र अवस्था में चार मंजिला से खुदी युवती, भाई चला रहा था सेक्स रैकेट

जयपुर। मुहाना थाना इलाके में शुक्रवार की रात