Main Sliderखाना-खजानाख़ास खबरफैशन/शैली

अगर खानें में नमक को कम करना चाहते हैं तो आजमाएं ये सरल तरीका

लाइफस्टाइल डेस्क। हर कोई खानें में आपने स्वाद अनुसार नमक डालता हैं लेकिन बहुत से लोग खानें में ज्यादा नमक खानें के शौकीन होते हैं। कम नमक इस्तेमाल करने की सलाह डॉक्टर भी देता हैं। जरुरी नहीं की कोई बीमारी हो तभी नमक कम खाएं ऐसा कुछ नहीं हैं।

अपने सेहत को स्वस्थ बनाने के लिए नमक का प्रयोग कम करना चाहिए। ये सलाह सिर्फ हाई ब्लड प्रेशर वालो के लिए ही ही नहीं हैं। बल्कि ज्यादा नमक खाते हैं तो आप ऐसी कई गंभीर बिमारियों को पाल रहे हैं जिससे होने वाले नुकसान का आपको अंजादा भी नहीं हैं।

यह आपके शरीर में पानी सोखने का कारण बनता हैं, जिससे आपके दिल और रक्त वाहिकाओं पर ज्यादा बोझ पड़ता है। इतना ही नहीं ये आंत के कैंसर, किडनी रोग, किडनी की पथरी, सिर दर्द और शरीर में सूजन व वजन बढ़ने के खतरे को बढ़ा सकता हैं। आपने खाने में आज से ही नमक की मात्रा काम करे दें। इन विशेष टिप्स की मदद से नमक कम करना आपके लिए आसान हो सकता हैं। स्वाद के लिए मसालों का उपयोग करें। मिर्च के फ्लैक्स और काली मिर्च पाउडर हमेशा टेबल पर रखें। हर्ब साल्ट का प्रयोग करें। इसे बाजार से खरीद सकते हैं या खुद तैयार कर सकते हैं।

इसे बनाने में धनिया, अजमोद, पुदीना, अजवायन की पत्ती, अजवायन और तुलसी जैसी जड़ी बूटियों का इस्तेमाल किया जा सकता हैं। गोमासियो एक विशेष तिल का नमक होता है। इसे बनाने के लिए भुने व पिसे तिल के 5 भाग के साथ 1 भाग नमक मिलाएं। जापानी लोग खाने में नमक का इस्तेमाल कम करने के लिए इसका इस्तेमाल करते हैं। खाने में अदरक का भी ज्यादा इस्तेमाल करें।

डिब्बाबंद फूड्स में अक्सर नमक काफी ज्यादा डाला होता है क्योंकि नमक एक प्रिजर्वेटिव है। अपना खाना खुद तैयार करना खाने में सोडियम की मात्रा को नियंत्रित रखने का सबसे अच्छा तरीका है। अगर कोई रेसिपी एक चुटकी भर नमक डालने को कहती है, तो इसे ओनियन पाउडर, गार्लिक पाउडर, काली मिर्च, जायफल, जीरा, करी पाउडर, अदरक, धनिया, तेज पत्ता, अजवायन के हरे पत्ते या ड्राई मस्टर्ड से बदल लें। अपना पनीर और मक्खन बदल लें। कम सोडियम वाले ताजा मोजेरिल्ला या चीज का चुनाव करें। साल्टेड बटर की जगह अनसाल्टेड बटर लें।

loading...
Tags