आईआईएलएम एकेडमी: एचआर कॉन्क्लेव में बच्चों ने सीखें प्रबंधन के गुण

आईआईएलएम एकेडमीआईआईएलएम एकेडमी

लखनऊ। गोमती नगर स्थित आईआईएलएम एकेडमी मे शनिवार को मिलेनियल के लिए प्रतिभा प्रबंधन रणनीतियां विषय पर आधारित एक एचआर कॉन्क्लेव का आयोजन किया गया। इस कॉन्क्लेव का मुख्य उद्देश्य मानव संसाधन प्रबंधन के क्षेत्र में कारपोरेट जगत के मौजूदा रूझानों के बारे में छात्रों को जानकारी देना था। इस कार्यक्रम में कारपोरेट जगत के प्रतिष्ठित पेशेवरों ने मंच साझा किया। जहां उन्होंने कम्पनियों में मानव संसाधन प्रबंधन की विकसित भूमिका से संबंधित अपने अनुभव और जानकारी को सबके सामने रखा।

आईआईएलएम एकेडमी के एचआर कॉन्क्लेव में इन हस्तियों ने की शिरकत

एचआर कॉन्क्लेव कार्यक्रम का उद्घाटन डॉ. नायला रूश्दी, निदेशक आईआईएलएम की डीन डॉ. शीतल शर्मा, एचआर मैनेजर केनाश्री सीनियर, ज्योत्सना पाण्डेय सीनियर (एचआर एक्जीक्यूटिव हिंदुस्तान टाइम्स) और विपुल चावला (एचआर मैनेजर एक्सिस बैंक) ने किया। इस दौरान आईआईएलएम एकेडमी की डीन डॉ. शीतल शर्मा ने कहा कि आज के इस प्रतिस्पर्धात्मक युग में एचआर की धारणा काफी हद तक गुणात्मकता से विश्लेषणात्मकता की ओर अग्रसर है।

टैलेन्ट मैनेज्मेन्ट स्ट्रैटिजीज पर किया गया पैनल डिस्कशन का आयोजन

एचआर कॉन्क्लेव में मिलेनियलस के लिए टैलेन्ट मैनेज्मेन्ट स्ट्रैटिजीज विषय पर पैनल डिस्कशन का आयोजन किया गया। पैनल डिस्कशन के दौरान विशेषज्ञों ने मिलेनियलस की विचारधारा, उनके कौशल और धारणा और कार्य के प्रति उनकी प्रतिबद्धता आदि विषयों पर चर्चा की। विशेषज्ञों ने बताया कि ऑर्गेनाइजेशन हमेशा रचनात्मकता को बढ़ावा देते है।

उनका मानना है कि वर्तमान समय में महात्वाकांक्षी युवाओं को ऑर्गेनाइजेशन मे बनाये रखने के लिए आवश्यक है कि उनकी धारणा को समझा जाए, उन्हें प्रशिक्षण एवं विकास के अवसर प्रदान किये जाये और मजेदार गतिविधियों, समारोहो, पुरस्कारों, प्रशन्सा, मान्यता इत्यादि के माध्यम से ऑर्गेनाइजेशन के प्रति उनकी प्रतिबद्धता में वृद्धि की जाये।

loading...
Loading...

You may also like

बिहार के जेलों में हुई एक साथ छापेमारी, आपत्तिजनक सामान बरामद

पटना। बिहार में कानून व्यवस्था को लेकर बुधवार