इमरान खान के शपथग्रहण में बाजवा से गले मिले सिद्धू, भाजपा बोली- कांग्रेस मांगे माफ़ी

इमरान खानइमरान खान

नई दिल्ली। पीटीआई नेता और पूर्व क्रिकेट इमरान खान ने पाकिस्तान के 22वें प्रधानमंत्री बन गए हैं। इमरान ने शनिवार को प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली है। उन्हें राष्ट्रपति ममनून हुसैन ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के रूप में पद एवं गोपनियता की शपथ दिलाई। इस मौके भारत के पूर्व क्रिकेटर और कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू भी मेहमान के तौर पर पहुंचे। वहीं इसको लेकर एक विवाद खड़ा होता हुआ दिखायी पड़ रहा है। जिसको तीखी प्रतिक्रिया देखने को मिल रही भाजपा की तरफ से इस देश को मुंह चिढ़ाने जैसा बताया गया है और कांग्रेस को माफ़ी मांगने की बात कही गयी है।

इमरान खान के शपथग्रहण में पहुंची तीसरी पत्नी 

शुक्रवार को पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ प्रमुख 65 वर्षीय खान कल सामान्य बहुमत से नये प्रधानमंत्री चुने गये। राष्ट्रपति ममनून हुसैन आज उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। इस मौके इमरान खान की तीसरी पत्नी बुशरा मनेका इस्लामाबाद में हो रहे शपथग्रहण समारोह में हिस्सा लेने के लिए पहुंची।

पढ़ें:- इमरान खान के शपथ समारोह में शिरकत करने लिए सिद्धू को मिला वीजा 

विवादों में घिरे नवजोत सिंह सिद्धू

इस शपथग्रहण समारोह में पूर्व क्रिकेटर और पंजाब के स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पहुंचे। यहां पर उन्होंने गर्मजोशी के साथ पाकिस्तान सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा से मुलाकात की और उन्होंने बाजवा को गले भी लगाया। साथ ही सिद्धू को PoK राष्ट्रपति मसूद खान के बगल में बिठाया गया है। जिसको तीखी प्रतिक्रिया देखने को मिल रही भाजपा की तरफ से इस देश को मुंह चिढ़ाने जैसा बताया गया है और कांग्रेस को माफ़ी मांगने की बात कही गयी है।

पढ़ें:- हमें फोन पर समारोह में शामिल होने के लिए इमरान ने आमंत्रित किया : सिद्धू 

इस दौरान नवजोत सिंह सिद्धू इमरान को तोहफे के रूप में पश्मीने का शॉल भेंट लेकर गए है। सिद्धू के पास 15 दिनों का वीजा है। सिद्धू ने इसे मोहब्बत का पैगाम बताया है।

loading...
Loading...

You may also like

अपार्टमेंट से गिरकर न्यूज़ एंकर की मौत, हत्या या आत्महत्या बना सस्पेंस

नयी दिल्ली। घटनाओं का सिलसिला थमने का नाम