पाक को सबक सिखाने के लिए भारत-रूस के बीच एस-400 पर समझौता

एस-400एस-400

नई दिल्ली। रूस के राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिन 4 अक्टूबर को भारत दौरे पर होंगे। इस दौरान उनकी मौजूदगी में भारत और रूस के बीच एस-400 रक्षा प्रणाली की आपूर्ति के लिए पांच अरब डॉलर के सौदे पर हस्ताक्षर किए जाएंगे। इस समझौते के लिए पुतिन की भारत यात्रा से पहले उनके एक सहयोगी ने मंगलवार को यह बात की जानकारी दी है। पुतिन के शीर्ष विदेश नीति सलाहकार युरी उशाकोव ने बताया कि, ‘इस यात्रा की मुख्य विशेषता एस-400 वायु रक्षा प्रणालियों की आपूर्ति के लिए समझौते पर दस्तखत करना होगा। यह करार पांच अरब डॉलर से ज्यादा का होगा।’ लंबी दूरी की सतह से हवा में प्रहार करने वाली एस-400 मिसाइलों की बिक्री के लिए कई महीने से भारत से बातचीत कर रहा है।

एस-400 हवा में कर सकता है फायरिंग

राष्ट्रपति पुतिन के विदेश नीति के उच्च सहयोगी यूरी उसाकोव ने बताया कि रूस महीनों से भारत को अत्याधुनिक एयर डिफेंस सिस्टम बेचने को लेकर बातचीत में जुटा हुआ है। रूस के साथ होने वाली इस मेगा डील पर भारत के दूसरे अहम डिफेंस पार्टनर अमेरिका की त्योरियां चढ़ी हुई हैं। पेंटागन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने अगस्त में कहा था कि अगर डील हुई तो भारत पर प्रतिबंध भी लगाया जा सका है। वहीं भारत ने संकेत दिए हैं कि वह इस डील के संबंध में वॉशिंगटन से विशेष छूट की मांग कर सकता है। हालांकि अमेरिकी अधिकारियों ने पिछले हफ्ते ही इस बात के संकेत दिए हैं कि इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि अमेरिका भारत को छूट देगा ही।

loading...
Loading...

You may also like

बंथरा में गौवंशीय पशुओं की हत्या कर मांस उठा ले गए तस्कर

लखनऊ। बंथरा इलाके में बुधवार सुबह एक आम