युद्ध प्रभावित सीरिया की मदद कर रहा भारत , 1 हजार छात्रों को दे रहा छात्रवृति

Loading...

नई दिल्ली। युद्ध प्रभावित देश सीरिया को भारत दवाओं और खाद्य आपूर्ति के साथ-साथ शिक्षा के क्षेत्र में भी मदद कर रहा है। भारतीय विश्वविद्यालयों में ग्रेजुएट, पोस्ट-ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों और पीएचडी के अध्ययन के लिए करीब एक हजार सीरियाई छात्रों को छात्रवृत्ति प्रदान किया जा रहा है।

सीरिया के छात्रों को छात्रवृत्ति प्रदान करने के भारत के इस कदम के पीछे सबसे बड़ा कारण है कि ये निकट भविष्य में अफ्रीकी महाद्वीप में सफलता की कहानियों को दोहराएगा।

भारत के इस कदम से खुश हैं सीरिया के राजदूत 

पूरे विश्व की निगाह युद्ध में घिरे सीरिया पर टिकी हुई है। यहां तुर्की के सैन्य अभियान ने सवाल खड़ा कर दिया है कि देश को युद्ध से कब मुक्ति मिलेगी? इसी बीच भारत सीरिया के लोगों की मदद कर रहा है और उनके उज्ज्वल भविष्य की नींव रख रहा है।

बता दें कि सीरिया के कई पूर्व और वर्तमान राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और उपराष्ट्रपति भारत में शिक्षा प्राप्त कर चुके हैं। भारत में सीरिया के राजदूत रियाद अब्बास भी ऐसा ही सोचते हैं और भारत के इस कदम से खुश हैं।

1,000 छात्र आये हैं  भारत

समाचार एजेंसी आइएएनएस के एक इंटरव्यू में अब्बास ने कहा कि सीरिया की भारत कई तरह से मदद कर रहा है। उन्होंने कहा कि विभिन्न विश्वविद्यालयों और विभिन्न पाठ्यक्रमों में अध्ययन करने के लिए लगभग 1,000 छात्र भारत आए हैं। भारत इस माध्यम से सीरिया की सहायता कर रहा है। सीरिया में मानवता और लोगों के विकास के लिए यह काफी अच्छी पहल है।

भारतीयों के स्वाभाव से भी ख़ुशी

अब्बास ने कहा कि वर्तमान में भारत में अध्ययन कर रहे सभी सीरियाई छात्र भारतीय लोगों के स्वभाव और मेहमाननवाजी से काफी संतुष्ट हैं। देशभर के 11 सरकारी और निजी विश्वविद्यालयों में पढ़ रहे छात्र यहां के विश्वविद्यालयों में आकर काफी खुश हैं और यहां उन्हें पूरी तरह से उनका साथ मिल रहा है।

Loading...
loading...

You may also like

अदिति ने शादी से पहले पापा के लिए लिखी भावुक पोस्ट, अंगद के साथ लेगीं सात फेरे

Loading... 🔊 Listen This News रायबरेली। रायबरेली की