अब रक्षा सौदे होंगे आसान, अमरीका की एसटीए-1 की सूची में अब भारत भी शामिल

STA-1STA-1

वॉशिंग्टन। अमरीका ने आज भारत के साथ रक्षा और सुरक्षा सहयोग में विस्तार को जारी रखते हुए अपनी सामरिक व्यापार प्राधिकरण (एसटीए-1) की सूची में भारत का नाम नियुक्त किया है। इस सूची में भारत संग  36 देशों के नाम भी शामिल हैं। एसटीए-1 की सूची में शामिल होने वाला भारत दक्षिण एशिया का एकमात्र ही देश है। इस सूची में नामित अन्घ्य एशियाई मुल्घ्कों में जापान और दक्षिण कोरिया का नाम भी है।

 अमरीका के निर्यात नियंत्रण व्यवस्था में भारत की स्थिति में यह महत्वपूर्ण बदलाव

भारत समेत इस सूची में शामिल सभी देश अब अमरीका से उच्च सामरिक उत्पादों की बिक्री आसानी से कर सकेंगे। अमरीकी वाणिज्य सचिव विल्बर रॉस ने आज घोषणा करी की हमने भारत सामरिक व्यापार प्राधिकरण को मंजूरी दे दी है। उन्होंने कहा कि अमरीका के निर्यात नियंत्रण व्यवस्था में भारत की स्थिति में यह एक महत्वपूर्ण बदलाव हो सकता है।

STA-1
 

ये भी पढ़े: इमरान खान दे सकते है मोदी को शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने का न्यौता

भारत अमेरिका के सुरक्षा और आर्थिक संबंधों के लिए बहुत अहम

अमरीकी चौंबर ऑफ कॉमर्स द्वारा आयोजित पहले इंडो-पैसिफिक बिजनेस फोरम में एक प्रशन का उत्तर देते हुए रॉस ने कहा कि भारत उनके सुरक्षा और आर्थिक संबंधों के लिए बहुत अहम है। इसलिए भारत को इस सूची में स्थान दिया गया हैं। अमरीका ने इस सूची में नामित देशों के लिए निर्यात नियंत्रण की प्रक्रिया को सरल और आसान बनाया है। इस सूची में शामिल देशों को अमरीका से अधिक उन्नत और संवेदनशील प्रौद्योगिकियों को खरीदने की राह अब आसान हो गई है। अब इसके लिए आसानी से अनुमति प्राप्त की जा सकती है।

दक्षिण एशिया में भारत अमेरिका का निकटम सहयोगी

STA-1
 

बता दें कि अमरीका ने वर्ष 2016 में भारत को एक प्रमुख सुरक्षा पार्टनरशिप के रूप में मानयता प्रदान की थी। इसके बाद उसने आज भारत को अपनी एसटीए-1 की सूची में शामिल किया। इस सूची में भारत को शामिल करके अमरीका ने यह संकेत दिया है कि दक्षिण एशिया में भारत उसका निकटम सहयोगी है।

loading...
Loading...

You may also like

ड्यूटी से नदारत तीन पुलिसकर्मी निलंबित, अवकाश खत्म होने के बाद मिले अनुपस्थित

लखनऊ। लखनऊ के एसएसपी कलानिधि नैथानी ने ड्यूटी