मोदी को खुली छूट देने के बजाय आयोग को निष्पक्ष काम करना चाहिए: मायावती

मायावतीमायावती

लखनऊ। बहुजन सामज पार्टी की मुखिया मायावती ने चुनाव आयोग पर निशाना साधा, आपको बता दें कि मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विमान की कथित रूप से तलाशी लेने वाले अधिकारी के निलंबन पर चुनाव आयोग को घेरा, बता दें कि मायावती ने कहा कि चुनाव आयोग के पास ऐसा कौन सा अधिकार है जिससे उसे पीएम के विमान तलाशी पर रोक लगा दी, मायावती ने कहा कि वे पूर्व सीईसी एसवाई कुरैशी द्वारा दिए गए बयान से सहमत हैं कि ऐसी कार्रवाई अनुचित है.

ये भी पढ़ें : एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर की मौत का मामला क्राइम ब्रांच को सौंपा

आपको बता दें कि आयोग द्वारा पीएम मोदी को खुली छूट देने की बजाय उसे निष्पक्ष काम करना चाहिए। चुनाव आयोग के पास ऐसा कौनसा अधिकार है जिससे पीएम के विमान की तलाशी पर रोक है व ऐसा करने पर आइएएस पर्यवेक्षक को निलम्बित कर दिया गया, बीएसपी पूर्व सीईसी श्री कुरैशी से सहमत है कि ऐसी कार्रवाई अनुचित है। आयोग को निष्पक्ष काम करना चाहिए ना कि पीएम श्री मोदी को हर प्रकार की खुली छूट।

ये भी पढ़ें : योगी का गठबंधन पर हमला बोलें- 35 सीटों पर लड़ने वाले पीएम का सपना पाल रहें 

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हेलीकॉप्टर की कथित रूप से जांच करने के लिए निर्वाचन आयोग ने ओडीसा के जनरल पर्यवेक्षक को निलंबित कर दिया। आयोग की ओर से जारी आदेश के अनुसार, कर्नाटक कैडर के 1996 बैच के आईएएस अधिकारी मोहम्मद मोहसिन ने एसपीजी सुरक्षा से जुड़े निर्वाचन आयोग के आदेश का पालन नहीं किया। इसके लिए जिला कलेक्टर और पुलिस महानिदेशक की रिपोर्ट के आधार पर आयोग ने सम्बलपुर के जनरल पर्यवेक्षक को निलंबित कर दिया। सम्बलपुर में प्रधानमंत्री के हेलीकॉप्टर की जांच करना निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों के खिलाफ माना गया है।

Loading...
loading...

You may also like

चुनाव परिणाम से पहले सेबी ने शेयर बाजारों की निगरानी व्यवस्था चाक-चौबंद की

🔊 Listen This News नयी दिल्ली।  नियामक सेबी