ईरान से कम नहीं हुई अमेरिका की नाराजगी

- in अंतर्राष्ट्रीय

 अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि वह ईरान को परमाणु हथियार हासिल नहीं करने देंगे. उन्होंने हनुक्का त्योहार के उपलक्ष्य में बृहस्पतिवार को व्हाइट हाउस में आयोजित दावत के दौरान चुनिंदा यहूदी आगंतुकों से कहा कि वह विश्व में आतंकवाद के अग्रणी प्रायोजक को छूट नहीं दे सकते, वह एक ऐसा शासन है जो अमेरिका का बुरा चाहता है और इज़रायल को हमेशा धमकी देता है. जो धरती पर घातक हथियार हासिल करना चाहता है.
 
यहूदी समुदाय को ट्रंप ने किया संबोधित

ट्रंप ने यहूदी समुदाय से कहा कि अमेरिका अब उस ‘‘भयावह ईरान परमाणु समझौते’’ से बाहर निकल आया है. उन्होंने कहा, ‘‘वह एक भयावह समझौता था. वह कभी नहीं किया जाना चाहिए था. हमने ईरान पर अत्यंत कड़े प्रतिबंध लगाए हैं. हम ईरान को कभी भी परमाणु हथियार या परमाणु बम हासिल नहीं करने देंगे.’’ 

ट्रंप ने कि यहूदी समुदाय की सरहाना

ट्रंप ने इज़रायल को ‘‘शक्तिशाली और शानदार देश’’ बनाने के लिए यहूदी समुदाय की सराहना की. उन्होंने इज़राइल के प्रति अपने प्रशासन के समर्थन का संकल्प भी किया. अमेरिका में इज़राइली दूतावास को यरुशलम स्थानांतरित करने के अपने कदम की तारीफ करते हुए ट्रंप ने कहा कि अमेरिका इज़राइल की सच्ची राजधानी को एक साल पहले ही मान्यता दे चुका है.

Loading...
loading...

You may also like

श्रीलंका ने बम धमाकों में मारे गए नौ भारतीयों के अवशेष भारत को सौंपे

🔊 Listen This News नई दिल्ली। श्रीलंका में