चीफ के सिवन ने सफलतापूर्वक लॉन्चिंग के बाद कहा कि यह चंद्रमा की ओर भारत की ऐतिहासिक यात्रा की शुरुआत

Loading...
                         2                                                                                                 isro
श्रीहरिकोटा से चंद्रयान 2 की सफल लॉन्चिंग सोमवार को हुई। इसरो चीफ के सिवन ने सफलतापूर्वक लॉन्चिंग के बाद कहा कि यह चंद्रमा की ओर भारत की ऐतिहासिक यात्रा की शुरुआत है। पिछली बार चंद्रयान 2 में आई दिक्कत के बाद पूरी इसरो की टीम एक्शन में आ गई। बहुत जल्द ही तकनीकी खामी का पता लगा लिया गया और उसे दुरुस्त किया गया। इसरो चेयरमैन के सिवन ने कहा कि मैं उन सभी को बधाई देता हूं जो इसके पीछे थे। 

इससे पहले चंद्रमा के अनछुए पहलुओं का पता लगाने के लिए चंद्रयान-2 सोमवार को यहां स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र (एसडीएससी) से शान के साथ रवाना हो गया। इसे ‘बाहुबली नाम के सबसे ताकतवर रॉकेट जीएसएलवी-मार्क ।।। के जरिए अपराह्न दो बजकर 43 मिनट पर प्रक्षेपित किया गया। आज का यह प्रक्षेपण अंतरिक्ष क्षेत्र में भारत की धाक जमाएगा और यह चांद के बारे में दुनिया को नई जानकारी उपलबध कराएगा।

गत 15 जुलाई को रॉकेट में तकनीकी खामी का पता चलने के बाद इसका प्रक्षेपण टाल दिया गया था। उस दिन इसका प्रक्षेपण तड़के दो बजकर 51 मिनट पर होना था, लेकिन प्रक्षेपण से 56 मिनट 24 सेकंड पहले रॉकेट में तकनीकी खामी का पता चलने के बाद चंद्रयान-2 की उड़ान टाल दी गई थी। उस दिन राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द भी प्रक्षेपण स्थल पर मौजूद थे।

Loading...
loading...

You may also like

तिहाड़ में यासीन मलिक और बिट्टा जी रहे हैं नरक की जिंदगी

Loading... 🔊 Listen This News नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर