जगन्नाथ यात्रा: मुख्यमंत्री विजय ने रथ कीच की यात्रा की शुरुआत, लाखों श्रद्धालु हुए शामिल

जगन्नाथ यात्राजगन्नाथ यात्रा

गुजरात। अहमदाबाद में भगवान जगन्नाथ की 141वीं रथयात्रा सुभारम्भ हो चूका है। जगन्नाथ यात्रा को लेकर मंदिर और पुलिस ने सभी तरह के कड़े इंतजाम किए गए हैं। सुरक्षाबल के जवानों को भी भारी संख्या में तैनात किया गया है। इस रथ यात्रा में बीजेपी के अध्‍यक्ष अमित शाह भी शामिल हुए हैं।

जगन्नाथ यात्रा

रथ खीच कर मुख्यमंत्री और उपमुख्‍यमंत्री ने की यात्रा की शुरुआत

इस रथयात्रा की शुरुआत गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी और उपमुख्‍यमंत्री नितिन पटेल ने रथ को खींच कर की। इसी दौरान मुख्‍यमंत्री और उपमुख्‍यमंत्री ने परंपरा के तहत रथ के आगे झाडू़ भी लगाई।

रथ यात्रा में शामिल होने आये हजारों लोग 

जगन्नाथ यात्रा

अहमदाबाद में यह रथ यात्रा सुबह 7 बजे निकली। वहीं रथयात्रा में शामिल होने के लिए देश के कोने-कोने से हजारों लोग अहमदाबाद पहुचे हुए हैं। आज के दिन भगवान जगन्नाथ, भाई बलभद्र और बहन सुभद्रा के साथ नगरयात्रा पर निकलेंगे। भगवान की इस रथयात्रा में लगभग 2500 साधुसंत हिस्सा लेंगे। यही नहीं इस रथयात्रा की सुरक्षा के लिए 1.5 करोड़ रुपये का बीमा भी लिया गया है। रथयात्रा के दौरान अगर कोई बड़ी जानहानि होती हे तो उसके लिए ये बीमा सुरक्षा रहेगी।

 ये भी पढ़े : 2019 चुनाव से पहले शुरू हो जायेगा राम मंदिर का निर्माण: अमित शाह 

शाम 7 बजे होगी रथ की मंदिर में वापसी 

रथयात्रा के दौरान भगवान जगन्नाथ के दर्शन करने आने वाले लोगों को 30 हजार किलो भीगे हुए मूंग, 500 किलो जामुन, 300 किलो आम और 400 किलो ककड़ी दी जाएगी। रथयात्रा की शुरुआत में सबसे आगे होंगे 18 गजराज, 101 ट्रक और 30 अखाड़े जो कि अलग-अलग करतब दिखाएंगे। 18 भजन मंडली और तीन बैंड बाजे के साथ इस रथयात्रा का समापन शाम के करीब 7 बजे रथ की मंदिर में वापसी के साथ होगा।

एचडी कैमरा के साथ रखीं जाएगी पुरी रथयात्रा पर नजर  

जगन्नाथ यात्रा

आपको बता दें की इस यात्रा के लिए सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए हैं। मंदिर परिसर में खास तौर पर सीसीटीवी कैमरे के साथ एसआरपी और बीएसएफ की टीमों को भी तैनात किया गया है। इसके अलावा बता दें की पहली बार रथयात्रा के लिए इजराइल की हीलयम बैलून को तैनात किया गया। यह एचडी कैमरा के साथ पुरी रथयात्रा पर नजर रखेगा। वहीं रथयात्रा के 13 किलोमीटर लंबे रुट पर 25,000 सुरक्षा कर्मी तैनात किए गए। जिसमे से कुछ एक ही जगह पर रहेंगे, तो वहीं कुछ रथयात्रा के साथ में चलेंगे।

loading...

You may also like

पीएम को चोर करने पर भड़के सीएम योगी, कहा- राहुल और कांग्रेस देश से मांगे माफ़ी

गोरखपुर। राफेल डील को लेकर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति