बड़े हमले की तैयारी में जैश, डार्क वेब’ के जरिये हो रही बातचीत

Loading...

नई दिल्ली। कई सुरक्षा एजेंसियों ने सरकार को प्रदेश में बड़े आतंकी हमले को लेकर सावधान किया है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम न बताने की शर्त पर यह जानकारी दी।  उन्होंने बताया कि राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के मद्देनजर पिछले 10 दिनों से ज्यादा समय तक उत्तर प्रदेश सरकार को पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद की प्रदेश में संदिग्ध हरकतों के बारे में सतर्क किया गया था।

सुरक्षा एजेंसियों ने सरकार को किया आगाह

सबसे अहम बात यह है कि कई एजेंसियां जिसमें सेना, रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (रॉ) और इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) शामिल हैं, ने इस बार एक साथ सरकार को इस बात के लिए आगाह किया है कि आतंकी किसी बड़ी घटना के अंजाम दे सकते हैं। वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘यह आतंकी खतरे की गंभीरता को दिखाती है। सभी एजेंसियां अपने-अपने स्तर पर आतंकी हमले से जुड़े एक ही निष्कर्ष पर पहुंची हैं।’

सुरक्षा एजेंसियों को करनी पड़ रही मशक्कत

एक अन्य वरिष्ठ अधिकारी ने नाम सार्वजनिक ना करते की शर्त पर बताया कि ‘इस मिशन में सबसे खास बात यह थी कि ज्यादातर बातचीत ‘डार्क वेब’ के जरिए की गई, जो कि इनक्रिप्टेड और कोड में थी। सुरक्षा एजेंसियों को इसे तोड़ने में खासी मशक्कत करनी पड़ी।’

 

Loading...
loading...

You may also like

चुनावी जीत के बाद केजरीवाल की अमित शाह से पहली मुलाक़ात, हुई सहयोग पर चर्चा

Loading... 🔊 Listen This News नई दिल्ली। राजधानी