J&K में लागू होगा राष्ट्रपति शासन, महबूबा बोलीं- नहीं चलेगी डराने-धमकाने वाली नीति

महबूबामहबूबा

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में सरकार गिराने के बाद पीडीपी नेता महबूबा मुफ़्ती ने प्रेस कांफ्रेंस कर बड़ा बयान दिया है। महबूब मुफ़्ती ने साफ़ कर दिया है कि उन्हें किसी भी पार्टी का समर्थन नहीं चाहिए वे किसी के साथ सरकार नहीं बनाएंगी। बता दें कि बीजेपी ने मंगलवार को पीडीपी से अपना समर्थन वापस ले लिया है। जिसके बाद बिना समर्थन वाली महबूबा सरकार गिर गयी है।

पढ़ें:- जम्मू कश्मीर में गिरी महबूबा सरकार, BJP का PDP से हुआ तलाक

महबूबा मुफ़्ती के बयान के प्रेस कांफ्रेंस के मुख्य अंश

  • आज बीजेपी की तरफ से गठबंधन से बाहर हुई इसके बाद मैंने राज्यपाल को इस्तीफ़ा दे दिया है।
  • बड़े विजन के साथ देश की सबसे बड़ी पार्टी के साथ गठबंधन किया था गठबंधन में कई महीने लगे थे।
  • राज्यपाल को मुसीबत से निकालने के लिए बीजेपी के साथ गठबंधन किया था।
  • हालांकि ये गठबंधन लोगों की विचारधारा के खिलाफ था।
  • हमारा मकसद पाकिस्तान के साथ अच्छे रिश्ते बनाने का था।
  • 11 नौजवानों के खिलाफ केस दर्ज वापस लिए गए।
  • बीजेपी को जम्मू में और हमें कश्मीर में समर्थन मिला था।
  • जम्मू-कश्मीर में डराने और धमकाने वाली नीति नहीं चलेगी।
  • बीजेपी को विशेष राज्य की मांग का डर था।
  • हमें किसी का समर्थन नहीं चाहिए, हम किसी के साथ सरकार नहीं बनाएंगे।

पढ़ें:- बिहार महागठबंधन: कांग्रेस 8 सीटें भी लेने को तैयार, बस राजद को माननी पड़ेगीं ये शर्तें

जम्मू-कश्मीर में लगेगा राष्ट्रपति शासन

बीजेपी के पीडीपी के साथ गठबंधन से बाहर आने के बाद महबूबा मुफ़्ती सरकार गिर चुकी है। अब प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगना लगभग तय क्योंकि प्रदेश में अन्य पार्टियों ने सरकार बनाने से इनकार कर दिया है। इस मामले में नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने कहा कि मैं गवर्नर से मिला। मैंने उनसे कहा कि राष्ट्रीय सम्मेलन को 2014 में सरकार बनाने के लिए जनादेश नहीं मिला था और हमारे पास 2018 में भी जनादेश नहीं है। हमारे पास संपर्क नहीं किया गया है और हम किसी के पास नहीं आ रहे हैं।

अब्दुल्ला ने कहा कि हमने राज्यपाल से भी अनुरोध किया कि राज्यपाल शासन लंबे समय तक लगाया नहीं जाना चाहिए। आखिरकार, लोगों को अपनी सरकार चुनने का अधिकार है। ताजा चुनाव होना चाहिए और हम लोगों के जनादेश को स्वीकार करेंगे।

loading...
Loading...

You may also like

ड्यूटी से नदारत तीन पुलिसकर्मी निलंबित, अवकाश खत्म होने के बाद मिले अनुपस्थित

लखनऊ। लखनऊ के एसएसपी कलानिधि नैथानी ने ड्यूटी