विश्वास प्रस्ताव पेश कर कुमारस्वामी बोले- मैं BJP के साथ जाता तो अपने परिवार को खो देता

विश्वास प्रस्ताव

बेंगलुरु। कर्नाटक में लंबी लड़ाई के बाद आखिरकार पूरी तरह से कांग्रेस और जेडीएस की सरकार बन गयी है। शुक्रवार को एचडी कुमारास्वामी ने विश्वास प्रस्ताव हासिल कर लिया है। वहीं विश्वास प्रस्ताव पेश करने के दौरान बीजेपी का विरोध देखने को मिला बीजेपी के विधायकों के वाकआउट कर दिया। बीजेपी नेता येदियुरप्पा ने इस मामले में बोलते हुए कहा कि हम कर्नाटक बंद बुलाते हैं क्योंकि एच कुमारास्वामी ने किसानों का कर्ज माफी नहीं की।

पढ़ें:- कांग्रेस के बयान से मचा हडकंप, कहा- जरुरी नहीं कुमारस्वामी 5 सालों तक रहें सीएम 

विश्वास प्रस्ताव पेश करने के बाद कुमारस्वामी ने कांग्रेस नेताओं का किया धन्यवाद 

विश्वास प्रस्ताव पेश करने के बाद कर्नाटक के नवनिर्वाचित सीएम कुमारस्वामी ने कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद, मल्लिकार्जुन खडग़े का शुक्रिया अदा किया। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उनके पिता और पूर्व पीएम एचडी देवगौड़ा ने कहा था कि यदि वे बीजेपी से हाथ मिलाते तो पूरा परिवार उन्हें छोड़ देता। मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने कर्नाटक की विधानसभा में विश्वास प्रस्ताव पेश किया। इसके साथ ही कुमारस्वामी ने रमेश कुमार के स्पीकर चुने जाने पर बधाई देते हुए कहा कि रमेश कुमार ने अपनी क्षमता साबित की है।

पढ़ें:- एचडी कुमारस्वामी का शपथग्रहण समारोह, तेजस्वी की इस हरकत ने जीत लिया दिग्गजों का दिल 

गौरतलब है कि किसी भी पार्टी को कर्नाटक चुनाव में स्पष्ट जनादेश नहीं मिला था। वहीं भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी। नतीजों के बाद कर्नाटक के राज्यपाल वजूभाई ने बीजेपी को सरकार बनाने का न्यौता दिया था। येदियुरप्पा मुख्यमंत्री भी बने और उन्हें राज्यपाल ने शक्ति परीक्षण के लिए 15 दिन का मौका दिया। इस बीच राज्यपाल के इस फैसले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गयी। सुप्रीम कोर्ट ने येदियुरप्पा को विश्वासमत हासिल करने के लिए सिर्फ एक दिन का समय दिया था। शक्ति परीक्षण से पहले येदियुरप्पा ने विधानसभा में इस्तीफे की घोषणा कर दी थी।

loading...
Loading...

You may also like

चप्पल गोदाम में लगी भीषण आग, एक घंटे मे पाया आग पर काबू

लखनऊ। घनी बस्ती के बीच बने चप्पल गोदाम