कर्नाटक में बीजेपी बनाने वाली थी सरकार, मायावती के फोन कॉल ने मचा दिया हडकंप

कर्नाटक
Please Share This News To Other Peoples....

नई दिल्ली। कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित किये जाने के बाद भी अब तक तय नहीं हो पाया है कि इस बार राज्य में किसकी सरकार बनने वाली है। इसकी वजह यह है कि किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुमत हासिल नहीं हो पाया है। लेकिन बीजेपी जेडीएस से समर्थन लेकर सरकार बनाने की तैयारी में थी। तभी बसपा सुप्रीमो मायावती की एक फोन कॉल ने बीजेपी के मंसूबों पर पानी फेर दिया।

बता दें कि कर्नाटक चुनाव में भाजपा को जहां 104 सीटें, कांग्रेस को 78 सीटें, जेडीएस को 37 सीटें और बसपा को एक सीट पर जीत मिली है, जबकि दो सीटें निर्दलीय ले गए हैं।

पढ़ें:- कर्नाटक की सरकार: कांग्रेस का पलटवार, कहा- हमारे संपर्क में भी हैं 4 BJP MLA 

कर्नाटक विधानसभा चुनाव : मायावती के एक फोन कॉल ने पलट दी बाजी

सूत्रों की माने तो बसपा सुप्रीमो मायावती ने ही सोनिया और जेडीएस के मुखिया एचडी देवगौड़ा से फोन पर बात कर दोनों को एक साथ आने का सुझाव दिया था। बसपा के आंतरिक सूत्रों का कहना है कि मायावती ने पार्टी के राज्यसभा सांसद अशोक सिद्धार्थ को चुनाव के परिणाम आने के बाद कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद से मिलने को कहा था। इसके बाद गुलाम नबी ने भी सोनिया गांधी को जेडीएस से हाथ मिलाने की बात कही थी। मायावती ने खुद जेडीएस के देवगौड़ा से बात की और उन्हें कांग्रेस के साथ गठबंधन के लिए मनाया। इसके बाद सोनिया को भी फोन करके मायावती ने बात कर जेडीएस के साथ के लिए मनाया।

पढ़ें:- कर्नाटक विधानसभा चुनाव: कांग्रेस के लिए खतरे की घंटी, बैठक में नहीं पहुंचे 3 विधायक 

राज्यपाल के फैसले पर सबकी नजर

अभी तक कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद भी ये तय नहीं हो पाया है कि कौन सरकार बना रहा है। इस बीच कर्नाटक में भाजपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार वी एस येदिरुप्पा ने बुधवार को राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया है।

दूसरी तरफ कांग्रेस जेडीएस के साथ मिलकर सरकार बनाने का दावा कर रही है। वहीं मंगलवार को राज्यपाल ने कांग्रेस और जेडीएस के नेताओं से मिलने से इंकार कर दिया था। जेडीएस के अध्यक्ष कुमारस्वामी राजभवन में राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे। रुझानों में कर्नाटक विधानसभा में बीजेपी के पास 104 सीटे, कांग्रेस 77 और जेडीएस 38 सीटें हैं।

Related posts:

रिसर्च: नोटबंदी और GST जैसे कड़े फैसलों के बावजूद भारत को सिर्फ मोदी पसंद है....
पुलिस की कामयाबी, ज्वैलरी शाप में हुई लूट का किया खुलासा
लालटेन थाम भाजपा पर हार्दिक ने साधा निशाना, बिजली नहीं देती मोदी सरकार...
छेडख़ानी को लेकर दो पक्षों में भिडंत, चले लाठी डंडे...
फूलपुर सीट पर सपा का कब्ज़ा तय, अखिलेश के इस दांव ने कार्यकर्ताओं में भरा जोश
लखनऊ : भारी कर्ज में डूबे आर्किटेक्ट ने पांचवी मंजिल से कूद कर दी जान...
इंवेस्टर समिट 2018 : सीएम ने कहा- पीएम के नेतृत्व में बीमारू के श्रेणी से निकला यूपी
आरक्षण की संवैधानिक व्यवस्था पर प्रहार कर ही है बीजेपी: मायावती
सहारनपुर: भीम आर्मी जिलाध्यक्ष के भाई की गोली मारकर हत्या, इंटरनेट सेवाएं बंद
पानी भरने के लिए कांग्रेस सांसद ने रुकवाई टाटा मूरी एक्सप्रेस
सेना के सूबेदार की हत्या, शव को खेत में फेंक आरोपी हुए फ़रार
कप्तान विराट ने जीत का श्रेय रोहित को नहीं बल्कि इस खिलाड़ी को दिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *