किडजी के बच्चों के किया द्रव्यवती का भ्रमण, कहा “द्रव्यवती नदी या नहर”अमेजिंग

- in शिक्षा
द्रव्यवती नदी
जयपुर। किडजी सृजन केसर नगर के प्री प्राइमरी स्तर के बच्चों ने शनिवार को द्रव्यवती नदी का शैक्षिक भ्रमण किया और तकनीकी, पर्यटन इत्यादि जानकारी लेकर रिवर का भ्रमण भी किया।

किडजी सृजन की निदेशिका रीना माथुर ने बताया कि प्री प्राइमरी स्तर के बच्चों को शैक्षिक भ्रमण कराने से उनका शारिरीक व मानसिक विकास होता है। इसलिए समय समय पर बच्चों को इस प्रकार के शेक्षिक भ्रमण करवाये जाते है।

द्रव्यवती नदी

उन्होने बताया कि वो नदी जो बेतरतीब शहरीकरण के कारण अमानीशाह का नाला बन गई थी उसे फिर से नदी का रुप दिया गया है। उत्तर में नाहरगढ़ की पहाड़ियों से शुरू होकर दक्षिण में 47 किलोमीटर तक बहने वाली यह नदी शहर में आने वाले लोगों के लिए पर्यटन का बड़ा साधन है। बच्चे इसके चारों और आराम से भ्रमण के साथ अपने  अभिभावकों के साथ खेल सकतें है।

द्रव्यवती नदी

इस दौरान उन्हे वंहा पर मौजूद सुविधांए वाई-फाई, आई-कियोस्क, स्मार्ट डस्टबिन, वेरिएबल मैसेज साइनेजेज, नदी के शहरी क्षेत्र में पब्लिक अनाउसमेंट सिस्टम, फुटपाथ, स्ट्रीट लाइट्स के बारे में बताया गया।
उन्होने बताया गया कि द्रव्यवती नदी की साफ सफाई, पार्क व म्यूजियम के नियम क्या है व आपातकालीन स्थिति में क्या करें इस पर बच्चों को जानकारी प्रदान की। इस दौरान बच्चों ने घूम घूम कर पार्क व रिवर का आंनद लिया।
द्रव्यवती नदीबच्चों ने इतने बड़े क्षेत्रफल में बनी रिवर के बारे में जाना और कुछ सवाल भी किये, बच्चों ने पूछा कि ये रिवर है या नहर, बता तो रिवर रहें है और ये लग नहर रही है, प्लीज बताअें सही क्या है, पर है ‘‘वाकई अमेजिंग ’’ जैसे कई सवाल पूछे। जिनका मौके पर जवाब भी दिया गया।

इस दौरान किड्जी सृजन की संगीता, मोहिनी, मीनाक्षी इत्यादि ने बच्चों केा तकनीकी जानकारी एंव रख रखाव के बारे में जानकारी दी।
loading...
Loading...

You may also like

मध्यम वर्ग के छात्रों की पहुंच से बाहर होता जा रहा लखनऊ विश्वविद्यालय

लखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय में पढ़ना मध्यम वर्ग के