7 विकेट से जीता श्रीलंका, लकमल बने मैन ऑफ़ द मैच

धर्मशाला । हिमाचल प्रदेश क्रिकेट संघ (एचपीसीए) स्टेडियम में रविवार को  पहले वनडे  में टीम इंडिया को 7 विकेट से हराकर श्रीलंका टीम ने बड़ा झटका दिया है। इस मैच में लकमल बने मैन ऑफ़ द मैच चुने गये।  खेले गए इस मैच में श्रीलंका ने गेंदबाजी और बल्‍लेबाजी, दोनों ही क्षेत्रों में टीम इंडिया को बुरी तरह पछाड़ा।

 मैन ऑफ़ द मैच लकमल  से हारी  इंडिया,  31 साल बाद ऐसा बुरा हाल…

  • श्रीलंका टीम ने जीत के लिए जरूरी 113 रन का लक्ष्‍य महज 20.4 ओवर में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया।
  • विराट कोहली की गैरमौजूदगी में टीम की अगुवाई कर रहे रोहित शर्मा के लिए कुछ भी ठीक नहीं रहा।
  • श्रीलंका के आमंत्रण पर पहले बल्‍लेबाजी करते हुए भारतीय टीम लगातार विकेट गंवाती रही।

29 रन तक पहुंचते-पहुंचते  7 बल्‍लेबाज पवेलियन लौटे

  • 29 रन तक पहुंचते-पहुंचते ही 7 बल्‍लेबाज पवेलियन लौट चुके थे।
  • वह तो भला हो एमएस धोनी का जिन्‍होंने विपरीत परिस्थितियों में 65 रन की जुझारू पारी खेली।
  • टीम को उसके अब तक न्‍यूनतम स्‍कोर (54) से नीचे जाने से बचाया।
  • पहले वनडे मैच में अपना तीसरा सबसे कम स्कोर बनाया।
  • सुरंगा लकमल की गेंदबाजी के आगे भारतीय टीम ने घरेलू जमीन पर पहले वनडे में 112 रनों पर धराशाई हो गई।
  • भारत का घरेलू जमीन पर सबसे कम स्कोर श्रीलंका के खिलाफ ही है।
  • कानपुर में 1986 में श्रीलंका के खिलाफ खेले गए वनडे मैच में 76 रन बनाए थे।
  • 1993 में भारतीय टीम ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 100 रन बनाए थे।
  • भारत  टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए महेंद्र सिंह धोनी (65) की अर्धशतकीय पारी के दम पर 112 रनों का स्कोर  किया।
  • एक समय लग रहा था कि भारत 50 का आंकड़ा भी नहीं छू पाएगा।
  • धोनी की अर्धशतकीय पारी के कारण भारत 112 रनों का स्कोर बना पाया।
  •  धोनी के कारण भारतीय टीम बेहद शर्मनाक स्थिति में जाने से बच गई।
  •  इसके साथ ही वनडे प्रारूप में सबसे न्यूनतम स्कोर के रिकॉर्ड से भी।

वनडे इतिहास में 16 रनों पर पांच विकेट गंवाने वाली पहली टीम बनी

  • वनडे इतिहास में भारतीय टीम केवल 16 रनों के स्कोर में अपने पांच विकेट गंवाने वाली पहली टीम बन गई है।
  • भारत ने पिछली बार 1983 विश्व कप में जिम्बाब्वे के खिलाफ 17 रनों के स्कोर पर अपने पांच विकेट गंवाए थे।
  • इस मैच में दिग्गज आलराउंडर कपिल देव ने नाबाद 175 रनों की पारी खेल भारत की साख बचाई थी।
  • भारत के शीर्ष पांच बल्लेबाजों ने धर्मशाला में जारी इस मैच में सबसे कम स्कोर का रिकॉर्ड भी बनाया है।
  • इन पांच बल्लेबाजों ने केवल 13 रन बनाए।
  • इससे पहले, भारतीय टीम के शीर्ष पांच बल्लेबाजों ने 2012 में पाकिस्तान के खिलाफ चेन्नई में 18 रन ।
  • श्रीलंका के खिलाफ साल 2000 में शारजाह में 23 रन ।
  •  टोरंटो में वेस्टइंडीज के खिलाफ 1999 में 19 रन ।
  •  1983 में जिम्बाब्वे के खिलाफ टुनब्रिज वेल्स में 15 रन बनाए थे और पांच विकेट गंवाए थे।
  • इस सूची में इंग्लैंड पहले स्थान पर है।
  •  वह 2001 में द ओवल मैदान पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले पांच ओवरों में एक विकेट पर केवल एक रन ही बना पाया था।
loading...
Loading...

You may also like

अगस्ता वेस्टलैंड मामला: मिशेल की जमानत याचिका पर फैसले को 22 दिसंबर तक सुरक्षित

नई दिल्ली। दिल्ली की एक अदालत ने बुधवार