लोकसभा चुनाव 2019 : राहुल गांधी अमेठी व केरल के वायनाड से भी लड़ेंगे चुनाव

वयनाड लोकसभा सीटवयनाड लोकसभा सीट
Loading...

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के लोकसभा चुनाव 2019 में दो सीटों से चुनाव लड़ने पर बड़ी खबर आई है। गांधी अब उत्तर प्रदेश के अमेठी व केरल के वयनाड लोकसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे। इस बात की पुष्टि कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह ने की है। बता दें कि साल 2014 के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात की वडोदरा और उत्तर प्रदेश की वाराणसी से चुनाव लड़ा था।

ये भी पढ़ें :-कांग्रेस का पलटवार- मोदी ने पाक को लिखे ‘लव लेटर’ में आतंकवाद का जिक्र क्यूं नहीं? 

कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह ने कहा कि राहुल गांधी पूरे देश के नेता

राहुल गांधी के दो सीटों से चुनाव लड़ने की पुष्टि करने वाले कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह ने कहा कि राहुल गांधी पूरे देश के नेता हैं। वायनाड सीट से भी राहुल अमेठी की तरह कई लाख वोटों से जीतेंगे। दीपक सिंह ने यह भी कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी,राजीव गांधी और सोनिया गांधी भी दो-दो सीट से चुनाव लड़े थे।

ये भी पढ़ें :-सपना चौधरी थाम सकती हैं कांग्रेस का ​हाथ, इस अभिनेत्री को देंगी कड़ी टक्कर 

केरल कांग्रेस ने राहुल गांधी को केरल वायनाड सीट से को लड़ने का दिया न्यौता

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि केरल कांग्रेस ने राहुल गांधी को केरल वायनाड सीट से को लड़ने का न्यौता दिया है। राहुल गांधी इस पर विचार करेंगे। सुरजेवाला ने कहा कि अमेठी राहुल की कर्मभूमि है और रहेगी।

कांग्रेस का गढ़ मानी जाती है वयनाड लोकसभा सीट

बता दें कि वयनाड लोकसभा सीट राज्य में पार्टी का गढ़ मानी जाती है। एआईसीसी महासचिव ओमन चांडी ने कहा कि पार्टी नेता मांग कर रहे हैं कि गांधी को किसी दक्षिण भारतीय लोकसभा सीट से चुनाव लड़ना चाहिए और हमने गांधी से वयनाड सीट से लड़ने का आग्रह किया है।

केरल की 20 लोकसभा सीटों में से 16 पर चुनाव लड़ रही है कांग्रेस

पार्टी केरल की 20 लोकसभा सीटों में से 16 पर चुनाव लड़ रही है और उसने 14 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी है, लेकिन वयनाड और वडाकरा से अपने उम्मीदवार घोषित नहीं किए हैं। वहीं राज्य विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रमेश चेन्नीथला ने कोट्टायम में कहा कि उन्होंने गांधी से वयनाड सीट से लड़ने का आग्रह किया था जब वह हाल ही में पार्टी के चुनाव अभियान की शुरुआत करने केरल आए थे।

Loading...
loading...

You may also like

Chandra Grahan 2019: चंद्र ग्रहण से भारत में पड़ेगा यह प्रभाव

Loading... 🔊 Listen This News नई दिल्ली। 2019