लोकसभा चुनाव: राहुल के पीएम बनने की इच्छा पर अखिलेश ने दिया बड़ा बयान

लोकसभा चुनाव
Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। आगामी लोकसभा चुनाव में पीएम बनने के राहुल के बयान पर पीएम मोदी के सवाल उठाए जाने के बाद अब उनके सहयोगी दल भी उनके बयान से सहमत नहीं दिखायी पड़ रहे हैं। इस मामले में यूपी के पूर्व सीएम और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। अखिलेश ने मीडिया से बातचीत में कहा कि लोकसभा चुनाव के बाद ही तय होगा कि अगला पीएम कौन होगा। अखिलेश यादव ने आज यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी उनके अच्छे मित्र है। लेकिन पीएम कौन होगा यह लोकसभा चुनाव के बाद ही तय होगा।

पढ़ें:- कर्नाटक प्रेस कांफ्रेंस : राहुल ने अपनी मां पर मोदी के हमले का दिया करारा जवाब 

लोकसभा चुनाव में पीएम की दावेदारी को लेकर राहुल ने दिया था ये बयान

बता दें कि राहुल गांधी ने कर्नाटक चुनाव प्रचार के दौरान पीएम बनने के सवाल पर कहा था कि 2019 के लोकसभा चुनाव में अगर कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनकर आती है, तो वह पीएम जरूर बनेंगे। जिसके बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने इस सहयोगी दलों व वरिष्ठ नेताओं का अपमान करार देते हुए कहा था कि खुद को पीएम पहले ही घोषित करना अहंकार है।

पढ़ें:- यूपी उपचुनाव: जातीय गठजोड़ का नहीं पड़ेगा असर, कैराना में खिलेगा कमल : बीजेपी 

अखिलेश का सीएम योगी पर जोरदार हमला

इस दौरान अखिलेश यादव ने सीएम योगी के कर्नाटक दौरे पर तंज कसते हुए कहा कि सीएम योगी को कर्नाटक की कानून-व्यवस्था की तो चिंता है। लेकिन प्रदेश की कानून-व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए उनकी सरकार ने कुछ नहीं किया। उन्होंने कहा कि यूपी में हत्याएं रुक नहीं रही है और इलाहाबाद में एक वकील और सभासद जबकि सहारनपुर दलित नेता की हत्या कर दी गई।

पढ़ें:- इस बड़ी शर्त के बाद लालू को मिला है तीन दिनों का पैरोल, बेटे की शादी में होंगे शामिल 

अखिलेश ने एनकाउंटर को लेकर तंज कसते हुए कहा कि कथित मुठभेड़ से प्रदेश की कानून-व्यवस्था सुधरने वाली नहीं है। इसके लिए ठोस कदम उठाने की जरुरत है। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने डायल 100 सेवा को भी बर्बाद करने का काम किया। सपा अध्यक्ष ने कहा कि मेरठ के मवाना क्षेत्र में पुलिस ने पिछले नरेन्द्र गुर्जर को फर्जी गोकशी के मामले में इतना मारा कि उसने दम तोड़ दिया।

इस दौरान अखिलेश ने मीडिया के सामने ने पीड़ित के भाई को भी पेश किया। उसने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाये। उसका कहना था नरेन्द्र वाहन चलाता था और वह खरीदी गई दुधारु गायों को लेकर जा रहा लेकिन पुलिस ने उसे गोकशी के फर्जी मुकदमें में जेल भेज दिया। पैसे की मांग पूरी नहीं होने पर उसके भाई को इतना मारापीटा गया कि उसने दम तोड़ दिया।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *