Lok Sabha Election 2019 : आज़म के विवादित बयानों पर 2 हफ्तों में दर्ज हुए 9 मुकदमें

आजम खानआजम खान
Loading...

लखनऊ/रामपुर।  लोक सभा चुनाव 2019 के महसंग्राम में उत्तर प्रदेश की राजनीति में विवादित बयानों और प्रतिद्वंदियोंप पर अपशब्दों की बौछार भी शुरू हो गयी। समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता और रामपुर के लोकसभा प्रत्याशी आजम खां एक बार फिर चुनाव में आउट ऑफ कंट्रोल हो गए हैं। सपा के राष्ट्रीय महासचिव आजम खां के बोल दिन प्रतिदिन बिगड़ते जा रहे हैं। आज़म के खिलाफ विभिन्न थानों में 13 दिन में नौ मुकदमे दर्ज हो चुके हैं।

ये भी पढ़ें : आजम खान का एक बार फिर विवादित बोल – आपके वालिद की मौत में आया था 

आज़म खान वह अपनी जनसभाओं में प्रधानमंत्री मोदी, मुख्यमंत्री योगी से लेकर प्रत्याशी और जिले के अधिकारियों तक को अपशब्द कहने से नहीं चूक रहे हैं। उनके हर बोल पर चुनाव आयोग का चाबुक भी चल रहा है। यही वजह है कि 13 दिन में आजम के खिलाफ जिले के विभिन्न थानों में नौ मुकदमे दर्ज हो चुके हैं।

आज़म के बयानों पर हुए 8 मुकदमे

आज़म पर 8 मुकदमे आपत्तिजनक बयानों को लेकर हुए हैं, जबकि एक मुकदमा स्वार कोतवाली में अनुमति से अधिक देर तक रोड शो निकालने का है। इतने मुकदमे दर्ज होने के बाद विरोधी दल अब उनके चुनाव लडऩे पर रोक लगाने या फिर उनके भाषणों पर प्रतिबंध लगाने की मांग करने लगे हैं।

गौरतलब है कि 2014 लोकसभा चुनाव में भी चुनाव के समय आजम खां द्वारा भड़काऊ और आपत्तिजनक बयानबाजी करने पर 7 मुकदमे हुए थे। चुनाव आयोग ने उनके भाषण देने पर रोक लगाई थी।

ये भी पढ़ें : NSUI कार्यकर्ताओं ने गहलोत को पहनाई नींबू-मिर्च की माला 

आज़म पर कब-कब दर्ज हुए मुकदमे

2 अप्रैल : आज़म खान पर शहर कोतवाली में पहला मुकदमा दर्ज हुआ। यह मुकदमा कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेश उपाध्यक्ष फैसल खां लाला की शिकायत पर हुआ। इसमें आरोप है कि सपा नेता 29 मार्च को सपा कार्यालय पर भाषण दिया था, जिसमें वह जनता को जिलाधिकारी, अपर जिलाधिकारी, उप जिलाधिकारी सदर और नगर मजिस्ट्रेट के खिलाफ भड़का रहे थे।

भाषण में वह बोल रहे थे कि इन चारों अधिकारियों को रामपुर का माहौल खराब करने के लिए भेजा गया है। ये अधिकारी रामपुर को खून से नहाना चाहते हैं।

ये भी पढ़ें : उर्मिला के प्रचार में लगे मोदी के नारे, भिड़े कांग्रेस-बीजेपी के कार्यकर्ता

4 अप्रैल : स्वार कोतवाली क्षेत्र में अनुमति से अधिक देर तक रोड शो निकालने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया।

8 अप्रैल : आज़म पर तीसरा मुकदमा टांडा थाना क्षेत्र जनता राइस मिल मैदान में हुई जनसभा में प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री और प्रशासनिक अफसरों के खिलाफ आपत्तिजनक भाषण देने पर मुकदमा दर्ज किया गया। इस जनसभा में आजम ने कहा था कि संवैधानिक कुर्सियों पर बैठे लोग मुजरिम हैं।

एक दिन के सजा याफ्ता कल्याण सिंह को गर्वनर बना दिया। इसके अलावा प्रधानमंत्री को मुसलमानों का कातिल और धर्म का ठेकेदार कहा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर अमर्यादित टिप्पणी करते हुए नीच शब्द का इस्तेमाल किया।

ये भी पढ़ें : 

9 अप्रैल : शाहबाद कोतवाली क्षेत्र के सैफनी कसबे में हुई जनसभा में संवैधानिक पदों पर बैठे लोगों और अधिकारियों पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर मुकदमा हुआ। अपने भाषण में आजम खां ने कहा था कि यह चुनाव बहुत खतरनाक है। रामपुर के अधिकारी मुझे हराना चाहते हैं। मेरी हत्या कराने के लिए आए हैं। मुझे मारने के लिए मोदी सरकार, योगी सरकार, रामपुर का सारा प्रशासन साजिश रच रहा है।

10 अप्रैल : थाना शहजादनगर क्षेत्र के धमोरा में जनसभा के दौरान मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर मुकदमा दर्ज किया गया।

बिलासपुर कोतवाली क्षेत्र के टांडा हुरमतनगर गांव में हुई जनसभा में प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर मुकदमा दर्ज किया गया। इस सभा में आजम ने कहा था कि मोदी जी ने हिंदु-मुसलमानों के बीच दीवार खड़ी की है। उत्तर प्रदेश की कुर्सी पर एक ऐसा शख्स बैठा है, जो 302 का मुजरिम है। यादव कांस्टेबिल का हत्यारा है।

ये भी पढ़ें : बेहतर होता कि प्रधानमंत्री इस राग से परहेज करते /

10 अप्रैल : मिलक कोतवाली क्षेत्र के ग्राम खाता नगरिया में जनसभा में भड़काऊ भाषण देने पर मुकदमा दर्ज हुआ। आरोप है कि इस भाषण में आजम ने जाति-धर्म की बात की। संवैधानिक पदों पर बैठे लोगों और अधिकारियों के खिलाफ अमर्यादित टिप्प्पणी की थी।

13 अप्रैल : खजुरिया थाना क्षेत्र के अहरो गांव में जनसभा में जिलाधिकारी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर खजुरिया थाने में मुकदमा दर्ज किया गया।

14 अप्रैल : शाहबाद कोतवाली में भाजपा प्रत्याशी एवं फिल्म अभिनेत्री जयाप्रदा के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर मुकदमा। आरोप है कि एक दिन पहले शाहबाद में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की मौजूदगी में आजम खां ने जयाप्रदा के लिए कहा था कि वह जो अंडरवियर पहनती हैं, वह खाकी रंग का है।

Loading...
loading...

You may also like

श्रीलंका सैलानियों के लिए है पूरी तरह से सुरक्षित : जैकलिन

Loading... 🔊 Listen This News नई दिल्ली। ‘मिस