क़र्ज़ से टूटी Rcom की कमर, 800 करोड़ की संपत्ति बेचने की तैयारी

नई दिल्ली। रिलायंस कम्युनिकेशन की कमर क़र्ज़ के बोझ से दोहरी हो चुकी है। अपनी देनदारियों के चलते आरकॉम ने अब देश की राजधानी दिल्ली और चेन्नई की अपनी 800 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति को बेचने का फैसला कर लिया है ।

आरकॉम अपनी रियल एस्टेट की इन संपत्तियों को कनाडा की एक कंपनी ब्रुकफील्ड को 801 करोड़ रुपये में बेंचने को राज़ी हो गयी है। इस डील को करने कि अनुमति आरकॉम को कर्ज देने वाले निकायों ने उसे दे दी है। ये संपत्तियां कनाडा की संपत्ति प्रबंधन कंपनी ब्रुकफील्ड को बेची जाएंगी। इससे जुड़े एक सूत्र ने कहा कि कर्जदाताओं ने आरकॉम की को 801 करोड़ रुपये में ब्रुकफील्ड को बेचने की अनुमति दे दी है।

हालांकि इस बात को लेकर आरकॉम की ओर से मीडिया में कोई आधिकारिक बयान नहीं जारी किया गया है । जबकि आरकॉम से इस बारे में संपर्क करने पर उसने किसी भी तरह की टिप्पणी करने से इंकार कर दिया। वही दूसरी ओर ब्रुकफील्ड कंपनी की ओर से भी आधिकारिक तौर पर इस सौदे की पुष्टि नहीं की गयी है । सूत्रों की मानें तो मौजूदा समय में आरकॉम के ऊपर बाज़ार की देनदारियों को मिलकर तकरीबन 45 हज़ार करोड़ रुपये का भारी भरकम क़र्ज़ है ।

नवी मुंबई में मौजूद धीरू भाई अम्बानी नॉलेज सिटी सहित अपनी कई संपत्तियों के लिए खरीदारों की तलाश आरकॉम कर रहा है । इन सम्पतियों से पैसा जुटाकर आरकॉम अपने क़र्ज़ को उतारने की कोशिश करेगा । गौरतलब है कि रिलायंस जिओ , वोडाफ़ोन, समेत कई दूरसंचार कंपनियों से कड़े मुकाबले के चलते आरकॉम को तगड़ा व्यापारिक घाटा हुआ है। जिसे पूरा करने के लिए अब कंपनी अलग रास्ता अपना रही है।

बतातें चलें कि अनिल अम्बानी के स्वामित्त वाली आरकॉम के ग्राहकों कि संख्या बीते एक साल में तेज़ी से घटी है । वहीं कंपनी की ओर से भी ग्राहकों को जोड़े रखने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा सका है ।

 

 

loading...
Loading...

You may also like

राजस्थान : भाजपा को बड़ा झटका, जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र कांग्रेस में शामिल

नई दिल्ली। पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह के