लखनऊ : हादसे का शिकार होने से बची शताब्दी एक्सप्रेस, ड्राइवर ने लगाया इमरजेंसी ब्रेक

शताब्दी एक्सप्रेसशताब्दी एक्सप्रेस

लखनऊ । पिपरसंड स्टेशन के पास लखनऊ से दिल्ली जाने वाली शताब्दी एक्सप्रेस सोमवार को हादसे का शिकार होने से बाल-बाल बच गई। मिली जानकारी के अनुसार रेलवे ट्रैक पर काम कर रहे कुछ मजूदर अपने उपकरण ट्रैक पर ही छोड़ कर किनारे आ गए।

रेलवे अधिकारियों ने शताब्दी एक्सप्रेस में इस तरह की कोई घटना होने से किया इंकार

लोको पायलट ने ट्रैक पर पड़े उपकरण देख लिए और हादसा होने से पहले ही ट्रेन को इमरजेंसी ब्रेक मारकर रोक दिया। हालांकि रेलवे अधिकारियों ने इस तरह की कोई घटना होने से इंकार किया है। लखनऊ-कानपुर रेलमार्ग पर पिपरसंड के पास ट्रैक मरम्मत का काम चल रहा है। मिली जानकारी के अनुसार यहां पर करीब 50 से अधिक मजदूर काम पर लगे हुए थे। दोपहर करीब 3.35 बजे लखनऊ से चलने के बाद जब शताब्दी एक्सप्रेस पिपरसंड पहुंचने वाली थी तो मजदूर ट्रैक से हट गए। इनमें से कुछ मजदूर अपने उपकरण रेलवे ट्रैक पर ही भूल गए। अचानक लोको पायलट की नजर ट्रैक पर रखे हुए उपकरणों पर पड़ गई।

ये भी पढ़ें :-झांसी मंडल में जूनियर इंजीनियर की परिक्षा में धड़ले से चल रही धांधली

लोको पायलट ने इमरजेंसी ब्रेक मारकर रोक दिया ट्रेन

यात्रियों के अनुसार लोको पायलट ने इमरजेंसी ब्रेक मारकर ट्रेन को  रोक दिया। जानकारों के अनुसार इस दौरान दो मजदूर भी चोटिल हुए हैं। लोको पायलट की सतर्कता की वजह से सैकड़ों यात्रियों की जान बच गई। यात्री मोहम्मद जाहिद के अनुसार अचानक ट्रेन का ट्रैक बदल  गया और जोरदार आवाज के साथ ट्रेन रुक गई। उन्होंने बताया कि लोको पायलट की सजगता की वजह से एक बड़ा हादसा होने से बच गया। सीनियर डीसीएम जगतोष शुक्ला के अनुसार इस तरह की घटना संज्ञान में नहीं आई है।

loading...
Loading...

You may also like

उत्तर प्रदेश :युवक ने जहर खाकर लगाई सीएम से न्याय की गुहार

लखनऊ।  सरकार के लाख दावे करने के बाद