लखनऊ: पुलिस ने बच्चों साथ मनाया बाल दिवस, DGP ने बच्चों को किया पुरस्कृत

लखनऊ पुलिस

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ जिले में रिजर्व पुलिस लाइन में पुलिस महानिदेशक, अपर पुलिस महानिदेशक लखनऊ जोन, पुलिस महानिरीक्षक लखनऊ परिक्षेत्र व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक लखनऊ कलानिधि नैथानी के साथ मिलकर बच्चों ने धूमधाम से बाल दिवस मनाया। इस कार्यक्रम के दौरान बच्चे काफी खुश नज़र आ रहे थे. देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू जी की 129 वीं जयंती के मौके पर रिजर्व पुलिस लाइन लखनऊ के गोष्ठी सदन में नेहरू जी को श्रद्धांजलि अर्पित कर बाल दिवस का शुभारंभ करते हुए बच्चों को संबोधित किया।

ये भी पढ़ें:- योगी सरकार में विकास कार्य रुके पड़े है, बादल रहे है तो सिर्फ नाम: अखिलेश 

राजधानी में बाल दिवस के अवसर पर बच्चों को परीक्षा में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने पर पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह द्वारा बच्चो को पुरस्कृत किया गया। साथ ही बच्चों को सप्रेम भेंट देते हुए उन्हें शुभकामनाएं दी गई। उन्होंने बताया कि बाल दिवस का मूल मंत्र प्यार है। इसी को लेकर बाल दिवस मनाते हैं। पुलिस विभाग अपने-अपने परिवार के बच्चों व समाज की रक्षा प्रदान करने के फलस्वरूप बच्चों को शिक्षा देने के लिए प्रेरित करें और आसपास के गरीब बच्चों की मदद कर उनकी शिक्षा में मदद करने का एक संकल्प ले। उन्होंने बच्चों से कहा कि वह अपनी-अपनी चीजों को शेयर करें और लोगों की मदद करें जिससे गरीब बच्चे को शिक्षा मिल सके और वह समाज मे बेहतर बने।

ये भी पढ़ें:- राम मंदिर न बनने से हिन्दू समुदाय में आक्रोश: चम्पत राय

बच्चे अच्छी किताबें पढ़ें तथा माता-पिता, टीचर का कहा माने और अपने व्यक्तित्व, वातावरण, स्कूल को कैसे साफ रखें, जिसके लिए एक मुहीम चलाये। अपने आस-पास का वातावरण साफ रखें जिससे रोग न फैले और प्यार को बांटा जा सके। एक बच्चा 01 दिन में 01 अच्छा काम करें और अपने-अपने कामों का आकलन कर उससे सीखे तभी एक महान देश, समाज बन पाएगा। डीजीपी ने कहा कि बच्चों के ऊपर देश का भविष्य निर्भर करता है। देश के निर्माण में बच्चों का हाथ होता है। सभी बच्चों को अपने माता-पिता की बात मानना है। उन्होंने कहा कि बच्चो आपको युवावस्था की चुनौतियों से भी सावधान रहना है। कभी-कभी नशे के कारण बच्चे अपराधिक गतिविधियों में भी लिप्त हो जाते हैं।

ये भी पढ़ें:- रामनगरी में शुरु हुआ उद्वव ठाकरे का विरोध,पूछी ये बात … 

इसका प्रभाव उनके स्वास्थ्य पर भी पड़ता है कोई भी बात मां बाप से नहीं छिपाना है यदि कोई भी बात हो तो अपने माता-पिता से जरूर बताएं, बच्चों को Smartphone fraud व Online fraud से बचने की आवश्यकता है। Online धोखाधड़ी से सभी बचें और अपने मोबाइल फोन को किसी अज्ञात व्यक्ति को ना दें तथा किसी अनजान नंबर से कॉल आने पर ना उठाएं या कॉल ना करें। यह काम माता-पिता को करने दे। अपनी E-mail आईडी व पासवर्ड किसी को ना बताएं और अपना वीडियो एवं फोटो किसी के साथ शेयर ना करें तथा गेमिंग साइट पर अपनी व्यक्तिगत जानकारी किसी को ना दें, इन सब बातों के पालन से आपका भविष्य उज्जवल होगा।

loading...
Loading...

You may also like

‘माल्याजी’ को चोर कहना गलत होगा वाले बयान पर घिरे गडकरी, फंसने पर कही ये बात

नई दिल्ली। देश में नरेंद्र मोदी सरकार के