अविश्वास प्रस्ताव: मल्लिकार्जुन खड़गे बोले- मोदी सरकार ने सिर्फ अडानी-अंबानी की बात की

अविश्वास प्रस्तावअविश्वास प्रस्ताव

नई दिल्ली। मोदी सरकार के चार साल पूरे होने के बाद पहली बार अविश्वास प्रस्ताव लगाया गया है। जिस पर लोकसभा में बहस चल रही है। एक तरफ जहां विपक्ष मोदी सरकार पर कई मुद्दों पर आरोप लगाते हुए असफल बताया। वहीं सत्ता पक्ष के नेताओं ने अपना बचाव करते हुए पलटवार किया है। इस दौरान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि देश के किसानों की बात सरकार ने कभी नहीं की, सरकार ने सिर्फ अडानी और अंबानी की बात की है। उन्होंने कहा, किसान आत्महत्या कर रहे हैं, मर रहे हैं।

पढ़ें:- Live : राहुल गांधी ने भाषण ख़त्म करने के बाद पीएम मोदी को लगाया गले 

अविश्वास प्रस्ताव: मल्लिकार्जुन खड़गे का मोदी सरकार पर बड़ा हमला

अविश्वास प्रस्ताव बहस में कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने भाषण में कहा कि 2014 में नरेंद्र मोदी ने कहा था कि किसानों को स्वामीनाथन आयोग के मुताबिक फसल के दाम दिए जाएंगें और उन्होंने दूसरा झांसा दिया कि 2022 तक किसानों की आय दोगुनी हो जाएगी। लेकिन आपने स्वामीनाथन आयोग के हिसाब से दाम नहीं दिया पर दावा आप ऐसा कर रहे हैं कि किसानों को लेकर ऐसा कभी किसी ने नहीं किया।मनमोहन सरकार के समय भी एमएसपी के दामों को बढ़ाया गया है। ऐसा सभी सरकारें करती रही हैं लेकिन आप यह नहीं बताते हैं। आप सिर्फ अपनी बात जोर से बोलते हैं।

पढ़ें:- राहुल गांधी ने रक्षामंत्री को झूठा और प्रधानमंत्री को भागीदार बताया, लोकसभा में हंगामा 

कांग्रेस सांसद मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, भाजपा के मुंह में राम और बगल में छुरी है। हमने 6,10,000 गांवों को दिया था बिजली कनेक्शन, क्या यह उपलब्धि नहीं है। लोकपाल को लेकर आप एक संशोधन नहीं कर पाए हो और बड़ी बड़ी बात लोकतंत्र को लेकर करते हो। उन्होंने आगे कहा कि बीजेपी, आरएसएस मिलकर समाज तोड़ने वाला काम कर रहे हैं, आरएसएस के सिद्धांत बाबा साहेब आंबेडकर के खिलाफ हैं।

पढ़ें:- मोदी सरकार ने किसानों, नौजवानों और व्यापारियों को ठगा : मुलायम 

बिजली के मुद्दे पर मल्लिकार्जुन खड़गे का हमला

नेता विपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि लोकसभा में कांग्रेस नेता और नेता विपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि 4 साल 4 महीने में मोदी सरकार ने क्या किया इसका जवाब दें। उन्होंने कहा कि बिजली के मुद्दे पर सरकार का दावा गलत है। क्या 70 सालों में देश में बिजली का उत्पादन नहीं हुआ। कांग्रेस सरकार  ने 6 लाख 10 हजार गांवों में बिजली पहुंचाई है। ऐसे में 4 साल में मोदी सरकार ने 18,000 गांवों में बिजली पहुंचाई तो क्या बड़ा काम किया है।

Loading...
loading...

You may also like

CSIR-CIMAP में नेशनल कांफ्रेंस ऑन मिंट: प्रास्पेक्ट, चैलेंज और थ्रेट्स पर

लखनऊ। CSIR-CIMAP अपने डॉयमंड जुबली वर्ष में रविवार