लोकसभा के चुनावी रण में उतरेंगी मायावती, इन दो सीटों पर लड़ेंगी चुनाव!

चुनावी रण
Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। लोकसभा चुनाव में भाजपा से टक्कर लेने के लिए बसपा ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी है। इस लोकसभा के चुनावी रण में अब बसपा सुप्रीमो मायावती भी उतरने वाली है। सूत्रों की माने तो मायावती दो सीटों पर चुनाव लड़ सकती हैं। बता दें कि वर्तमान समय में मायावती के पास किसी भी सदन की सदस्यता नहीं है। वे 1998, 1999 और 2004 में लोकसभा सांसद चुनी जा चुकी हैं।

पढ़ें:- लोस चुनाव: भाजपा में बगावत शुरू, बसपा में शामिल होंगे में दर्जन भर से ज्यादा सांसद 

चुनावी रण में इन दो सीटों पर लड़ सकती हैं मायावती

सूत्रों के मुताबिक मायावती के जिन दो सीटों पर चुनाव लड़ने की सबसे ज्यादा चर्चा हो रही है। उसमें अंबेडकरनगर और बिजनौर है। हालांकि इस बात की पुष्टि नहीं हो पायी है। बता दें कि मायावती ने 1998, 1999 और 2004 में लोकसभा सांसद चुनी जा चुकी हैं। 2004 में आखिरी बार वह अंबेडकरनगर से लोकसभा सांसद चुनी गई थीं। अंबेडकरनगर को बीएसपी का गढ़ माना जाता है।

पढ़ें:- महिला से छेड़छाड़ पर मायावती की दिखी सख्ती, बसपा नेता को प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाया 

सपा-बसपा गठबंधन को देखते हुए मायावती का ये फैसला

सूत्रों का कहना है कि गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव में सपा और बसपा का गठबंधन हिट होने के बाद लोकसभा चुनाव में भी इसे दोहराया जाएगा। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने पहले ही मायावती को लोकसभा के चुनावी रण में सपोर्ट करने के संकेत दे दिए हैं। अखिलेश कन्नौज की लोकसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे अंबेडकरनगर और बिजनौर में से मायावती किस सीट से चुनाव लड़ेंगी, अभी इसपर कुछ तय नहीं हुआ है।

Related posts:

लखनऊ: बापू भवन में लगी भीषण आग
भारतीय असाधारण, चाय वाले का PM चुना जाना अविश्वसनीय: इवांका
गुजरात चुनाव : बीजेपी 98 सीटों पर जीत दर्ज कर बनेगी सरकार, कांग्रेस को मिली 81 सीटें
बस्ती में मार्ग दुर्घटना से तीन की मौत चार घायल
बोधगया महाबोधि मंदिर में 3 जगहों पर मिले विस्फ़ोटक, धमाके की साजिश नाकाम
राहुल गांधी इन दो नेताओं भेजना चाह रहे थे राज्यसभा, कर्नाटक कांग्रेस ने ठुकराया प्रस्ताव
Video : सीएम हेल्प लाइन में महिला कर्मचारियों से छेड़खानी, खाया जहर
गिरिराज सिंह ने लोगों को भड़काने की कबूली बात, फिर नीतीश को लेकर दिया बड़ा बयान
Breaking: गुजरात दंगे में मुख्य आरोपी माया कोडनानी निर्दोष करार
योगी के साथ अमित शाह गांधी परिवार के गढ़ में लगाएंगे सेंध
जब जवानों के सर कट रहे थे तो बीजेपी ने समर्थन वापस क्यों नही लिया : आज़म
सुनील राठी के खुलासे से मचा हड़कंप, बतायी मुन्ना की हत्या के पीछे की असली वजह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *