आंबेडकर का नाम हो रहा इस्तेमाल, BJP को मूर्तियां टूटने से फर्क नहीं पड़ता : मायावती

आंबेडकर
Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। सिद्धार्थनगर और इलाहाबाद में बाबा साहेब आंबेडकर की मूर्ति तोड़े जाने को लेकर शनिवार को बसपा की प्रमुख मायावती ने योगी सरकार को आड़े हाथ लिया। मायावती ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि प्रदेश सरकार को इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि मूर्ति तोडऩे से प्रदेश सरकार कलंकित पूरे देश में कलंकित हुई है। इस पर प्रदेश सरकार को सख्ती करनी चाहिए। साथ ही उन्होने मूर्ति तोड़े जाने को दुर्भाग्यपूर्ण बताया।

पढ़ें:- राजा भैया पर भड़के अखिलेश यादव, भविष्य के लिए दिया कड़ा संदेश 

आंबेडकर की मूर्ति तोड़े जाने को लेकर मायावती ने साधा निशाना

बसपा सुप्रीमो ने शनिवार को अपने मॉल एवेन्यू स्थित आवास पर आयोजित प्रेस कांफ्रेंस कर बीजेपी पर करारा हमला किया। मायावती ने कहा कि बाबा साहेब की मूर्ति तोडऩा दुर्भाग्यपूर्ण है। बाबा साहब का नाम बदलना वोट के लिए स्वार्थ की कोशिश है। सरकार का इस ओर ध्यान नहीं है। मूर्ति तोडऩे से प्रदेश सरकार कलंकित पूरे देश में कलंकित हुई है। इस पर प्रदेश सरकार को सख्ती करनी चाहिए, जिससे मूर्ति तोडऩे की घटना दोबारा न हो।

पढ़ें:- फिर तोड़ी गयी आंबेडकर की प्रतिमा, नाम बदलने वाली सरकार नहीं कर पा रही हिफाज़त 

मायावती ने सरकार की प्रतिक्रिया पर सवाल उठाते हुए कहा कि बाबा साहेब ने हर काम कानून रुप से किया। मूर्ति तोडऩे वालों पर कार्रवाई क्यों नहीं हुई। यूपी में बाबा साहेब का अपमान हो रहा है। वहीं गुजरात में दलित युवक की हत्या को लेकर मायावती ने वहां की प्रदेश सरकार और पीएम मोदी पर निशाना साधा उन्होंने कहा कि गुजरात में घुड़सवारी करने पर दलित की हत्या की गई थी। गुजरात सरकार दलितों का उत्पीडऩ नहीं रोक रही है। दलित को चौराहे पर कोड़े से पीटा गया था। पीएम के गृह राज्य में दलितों का उत्पीडऩ हो रहा है।

पढ़ें:- सिद्धार्थनगर में भी टूटी अम्बेडकर के मूर्ति का हाथ 

बसपा सुप्रीमो ने कहा कि बीजेपी के नेताओं को लोकलाज का ध्यान नहीं है। पीएम को पिछड़ों, दलितों का ध्यान नहीं है। बीजेपी शासित गुजरात में जातिवाद का जहर घोला गया है। दोषियों पर बीजेपी सरकार कार्रवाई नहीं कर रही है। बीजेपी का ध्यान वोट बैंक की राजनीति पर है। बीजेपी सरकार दोषियों पर ठोस कदम उठाए। पीएम ने मौन धारण कर रखा है, पीएम ने गुजरात में दलित की हत्या पर नहीं बोला। मूर्ति तोडऩे पर भी पीएम ने चुप्पी साध रखी है।

Related posts:

कानपुर के इनामी को कृष्णानगर में एसटीएफ ने पकड़ा
इंदिरा गांधी शांति पुरस्कार से नवाज़े गए मनमोहन सिंह
बागपत: दबंगों ने तीन मौलानाओं को लोहे की रॉड से पीटने के बाद ट्रेन से बाहर फेंका
हार से आहत सपा प्रत्याशी गुलशन बिंदू ने की सुसाइड की कोशिश, बीजेपी पर साधा निशाना
PGI : अपनी मांगों को लेकर चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों का हंगामा...
सीएम योगी ने दी पूरे देश को होली की शुभकामनाएं
मुलायम ने कहा, नरेश अग्रवाल के जाने से होगा हमारा फायदा...
रिपोर्ट : योगी की तरक्की नहीं चाहता हाईकमान, जानबूझकर गोरखपुर में हरवाया गया
आरटीई के खिलाफ निजी स्कूलों का हल्लाबोल, सात अप्रैल को देशव्यापी आन्दोलन
सपा नेता की हत्या पर भड़के अखिलेश यादव, बीजेपी-जदयू सरकार पर साधा निशाना
सेक्स चेंज कराने के लिए महिला कांस्टेबल ने चिकित्सा निदेशालय को लिखा पत्र
मुहम्मद अली जिन्ना की विरासत चाहते हैं राहुल गांधी : भाजपा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *