लोक सभा चुनाव : पश्चिम बंगाल में समय से पहले प्रचार बैन पर भडक़ी माया

मायावतीमायावती

लखनऊ। पश्चिम बंगाल में हुई हिंसा को लेकर बसपा प्रमुख मायावती ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस किया और भाजपा को आड़े हाथ लिया।  उन्होंने कहा कि एक दिन पहले चुनाव प्रचार पर रोक लगाना गलत है और अगर रोक लगानी ही थी।  तो उसे कल से ही लागू कर देना चाहिए था। केंद्र की सरकार के दबाव में आकर चुनाव आयोग ने बंगाल में एक दिन पहले प्रचार पर रोक लगा दी है वो भी पीएम मोदी की आज होने वाली दो रैलियों के बाद।। इसकी हमारी पार्टी बसपा कड़ी शब्दों में निंदा करती है।

मायावती ने कहा कि यदि चुनाव आयोग को रोक लगानी थी तो आज सुबह से ही चुनाव प्रचार को रोक दिया जाना चाहिए था। ऐसा नहीं हुआ जिससे यह बात साफ है कि इस बार का चुनाव फ्री एंड फेयर नहीं हो पाया। हमारे लोकतंत्र को भारी आघात पहुंच रहा है। यह बहुत ही निंदनीय और शर्मनाक है।

भाजपा की कोशिश बंगाल के मुद्दे को गर्माने की है जिससे सरकार की नाकामियों से लोगों का ध्यान हटे। लेकिन यूपी के तरह बंगाल की जनता भाजपा को करारा जवाब देगी, बसपा प्रमुख ने आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश में भी भाजपा और आरएसएस के लोगों ने बंगाल जैसी स्थिति पैदा करने की पूरी-पूरी कोशिश की थी। लेकिन हमारे गंठबंधन ने इनके मंसूबों पर अभी तक पानी फेरा है और आखिरी चरण के वोट पडऩे तक भी हम उनके मंसूबों को पूरा नहीं होने देंगे। हमें अपने गंठबंधन पर पूरा-पूरा भरोसा है।

Loading...
loading...

You may also like

चुनाव परिणाम से पहले सेबी ने शेयर बाजारों की निगरानी व्यवस्था चाक-चौबंद की

🔊 Listen This News नयी दिल्ली।  नियामक सेबी