Main Sliderअंतर्राष्ट्रीयख़ास खबरराष्ट्रीयविचार

माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला ने सीएए पर बड़ी प्रतिक्रिया देते हुए बताया दुखद

वर्ल्ड न्यूज। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर आए दिन विरोध प्रदर्शन का मामला सामने आ रहा हैं। जिसके कारण हर रोज कोई न कोई अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहा हैं। नागरिकता कानून 2019, 10 जनवरी से पूरे देश में लागू हो गया है।

केंद्र सरकार ने इसे लेकर अधिसूचना भी जारी कर दी है। देश में कई जगहों पर नागरिकता संशोधन कानून को लेकर विरोध प्रदर्शन देखने को मिला है। इस कानून को लेकर देश के कई इलाकों में हिंसा की घटनाएं भी सामने आ चुकी हैं, जिनकी जांच जारी है।

इसी बीच भारत में जारी विरोध-प्रदर्शनों को देखते हुए माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला ने मैनहट्टन में एक कार्यक्रम में एक बड़ा बयान दिया था। सत्या नडेला ने भारत में जारी विरोध-प्रदर्शनों को दुखद करार दिया है। दरअसल, सीएए को लेकर बजफीड के संपादक बेन स्मिथ ने उनकी प्रतिक्रिया जाननी चाही थी।

‘मेरी कीमत सिर्फ दो हजार रुपये नहीं है। मैं इससे कहीं अधिक मूल्यवान हूं।’- ओवैसी

इस पर नडेला ने कहा, मुझे लगता है जो हो रहा है वह दुखद है। मुझे अच्छा लगेगा अगर कोई बांग्लादेशी अप्रवासी भारत में इन्फोसिस का सीईओ बनता है। नडेला की ओर से माइक्रोसॉफ्ट इंडिया द्वारा जारी बयान में, कहा गया है कि प्रत्येक देश को अपनी सीमाओं को पारिभाषित करने, राष्ट्रीय सुरक्षा सुनिश्चित करने और आव्रजन नीति निर्धारित करने का अधिकार है।

लोकतंत्रों में यह सब जनता और सरकार के बीच बहस से पारिभाषित होता है। बता दें कि नडेला का यह बयान तब सामने आया है जब नागरिकता कानून को लेकर देश में विपक्षी पार्टियों समेत विभिन्न राज्यों के लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

loading...
Loading...
Tags