मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस: मंत्री मंजू वर्मा को देना पड़ा इस्तीफ़ा

मंत्री मंजू वर्मा

नई दिल्ली। बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम रेप केस मामले में समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा को इस्तीफ़ा देना पड़ा है। मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा पर आरोप लग रहे थे और उन पर इस्तीफे का दबाव बनाया जा रहा था। बता दें कि चंद्रशेखर वर्मा पर आरोप थक कि वो रात में बालिका गृह जाते थे। वहीं इस मामले में बिहार बीजेपी के सिनियर नेता सीपी ठाकुर ने कहा कि मंजू वर्मा ने इस्तीफा देकर सही किया है।

पढ़ें:- ब्रजेश ठाकुर कांग्रेस के टिकट पर लड़ने वाला था चुनाव 

मंत्री मंजू वर्मा के पति से संबंध होने से ब्रजेश ठाकुर ने किया इंकार

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम रेप केस मामले में मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर समेत सभी 10 आरोपियों की विशेष पॉक्सो कोर्ट में पेशी हुई। इस दौरान कोर्ट परिसर में उनसे मीडिया से मंजू वर्मा के पति के साथ संबंधों पर कहा कि मेरा उनसे कोई संबंध नहीं है। बस कभी-कभी बात होती थी। इस मामले में मंत्री के पति का नाम सामने आने के बाद भाजपा दो धड़ों में बंटती नजर आ रही थी। एक तरफ जहां कुछ नेता मंजू वर्मा के साथ खड़े थे। वहीं दूसरी तरफ कुछ नेता उनके इस्तीफे की मांग कर रहे थे।

पढ़ें:- मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप केस में फंसे नीतीश कुमार के मंत्री के पति 

इस्तीफे की मांग लेकर बवाल

मंजू वर्मा को लेकर बिहार की राजनीति में नई उठापटक शुरू हो गई थी। लेकिन बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी मंजू वर्मा का समर्थन किया था। वहीं भाजपा नेता सीपी ठाकुर ने नीतीश सरकार में मंत्री मंजू वर्मा को हटाने की मांग की थी। वहीं पहले विपक्ष की तरफ से इस्तीफ की मांग पर मंजू वर्मा ने विवादित बयान देते हुए कहा कि वो कुशवाहा समाज के लोग हैं और ये कुकृत्य यादव समाज और राजद के लोग करते हैं। उन्होंने कहा कि वो इस्तीफा नहीं देंगी। जाति कार्ड खेलते हुए उन्होंने कहा कि वो कुशवाहा समाज से है इसलिए उन्हें टारगेट किया जा रहा है।

loading...
Loading...

You may also like

आठ माह के मासूम की सांस नली में दूध फंसने से बच्चे की मौत

लखनऊ। बच्चों को लिटाकर दूध पिलाने से शहर