मोदी ने पूरा किया एक और वादा, कश्मीर में बनेगा IIM का ऑफ-कैंपस

कश्मीर में बनेगा IIM का ऑफ-कैंपसकश्मीर में बनेगा IIM का ऑफ-कैंपस
Loading...

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने श्रीनगर में आईआईएम-जम्मू के एक ऑफ कैंपस केंद्र को बनाने के लिए मंजूरी दे दी है। इस कैंपस का निर्माण लगभग 51.8 करोड़ रुपये के खर्च से किया जाएगा। बता दें की कैंपस निर्माण के लिए केंद्र सरकार ने फंड को मंजूरी दे दी है।

मुख्यमंत्री खट्टर सड़क छाप रोमियो की भाषा बोल रहे हैं : स्वाति मालीवाल

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद यह फैसला लिया गया है। बीते आठ अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए वादा किया था कि जल्द ही जम्मू और कश्मीर में आईआईटी और आईआईएम के कैंपस खोले जाएंगे। बी एस सहाय जो की आईआईएम-जम्मू के निदेशक हैं। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि इस अस्थाई संस्थान का निर्माण श्रीनगर में एयरपोर्ट रोड पर किया जाएगा।

जम्मू-कश्मीर : परिसीमन के बाद होंगे विधान सभा चुनाव, मिलेगा रिजर्वेशन 

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कैंपस भवन के निर्माण का कार्य शुरू करने के लिए सेंट्रल पब्लिक वर्क डिपार्टमेंट को पत्र लिखा गया है। सहाय ने बताया कि ‘हम मैनेजमेंट डेवलेपमेंट प्रोग्राम (तीन दिन से छह महीने तक की छोटी अवधि के कार्यक्रम) को शुरु करने जा रहे हैं। साथ ही। उन्होंने श्रीनगर ऑफ-कैंपस सेंटर फुल टाइम एमबीए कार्यक्रम भी जल्द शुरू किए जाने की बात कही है।

बता दें कि सहाय आईआईएम-जम्मू के पहले निदेशक हैं। संस्थान प्रबंधन में मास्टर्स इन बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (एमबीए) और डॉक्टरेट कार्यक्रम (पीएचडी) कोर्स मौजूद है और वहां छात्रों की संख्या लगभग 150 तक है।

Loading...
loading...

You may also like

छेड़छाड़ मामले में 9 दिन दाखिल हुई चार्ज शीट, 21 दिन में सुनाई सजा, तीन साल की कैद

Loading... 🔊 Listen This News कानपुर। कानपुर जिले