मोहर्रम : हजारों अकीदतमंदों ने इमाम हुसैन को नजराना किया अकीदत

Loading...

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में दस मोहर्रम को यौमे आशूरा पर सुबह 11 बजे विक्टोरिया स्ट्रीट स्थित नाजिम साहब के इमामबाड़े से आशूरा का जुलूस निकाला गया। इस जुलूस में लखनऊ शहर के 100 से अधिक अंजुमनों ने अपने अलम उठाए।

नौहाख्वानी करती मातमी अंजुमनों के साथ जुलूस में शामिल हजारों अकीदतमंदों ने इमाम हुसैन को नजराना अकीदत पेश किया। वहीं लखनऊ के सुन्नी समुदाय का बड़ा जुलूस बादशाह नगर के निशातगंज स्थित कर्बला में सम्पन्न हो गया , जिसमें हजारों की संख्या में सुन्नी समुदाय  के ताजियेदार शामिल हुए।

इमामबाड़ा नाजिम साहब में जुलूस से पहले हुई मजलिस को मौलाना फरीदुल हसन ने खिताब किया। मजलिस को खिताब करते हुए मौलाना ने इमाम हुसैन की शहादत का मंजर पेश किया तो अजादार बेकरार हो उठे।

ये भी पढ़ें :- योगी सरकार की कैबिनेट ने 11 प्रस्तावों पर लगाई मुहर, मॉब लिंचिंग पर देगी मुआवजा 

मजलिस के बाद आशूर का जुलूस निकाला गया। जुलूस में शामिल सैकड़ों अकीदतमंदों ने इमाम के गम में कमा और जंजीर का मातम कर खुद को लहूलुहान कर लिया। जुलूस नक्खास, टूड़ियागंज, बाजारखाला, हैदरगंज, एवरेडी चौराहा होते हुए दोपहर बाद कर्बला तालकटोरा पहुंचा।

जुलूस में शामिल शहर की मातमी अंजुमनें अपने अलम के साथ नौहाख्वानी और सीनाजनी करती चल रही थीं। जुलूस में हजारों की संख्या में स्याह लिबास पहने बुर्कानशीं औरतें, छोटे बच्चे, नौजवान और बुजुर्ग नंगे पांव सीनाजनी करते चल रहे थे। कर्बला तालकटोरा में दोपहर में हुई मजलिस को मौलाना मीसम जैदी ने खिताब किया।

Image result for हजारों अकीदतमंदों ने इमाम हुसैन को नजराना किया अकीदत पेश

मजलिस को खिताब करते हुए उन्होंने इमाम की सवारी जुलजनाह के ख्यामे हुसैनी पहुंचने का मंजर बयान किया तो अजादारों की आवाजें बुलंद हो गईं। कर्बला तालकटोरा में अजादारों ने अपने अजाखानों के ताजिये सुपुर्दे खाक किये।

कर्बला में बड़ी संख्या में अहले सुन्नत और हिंदू ताजियेदार भी अपने ताजियों के साथ सीनाजनी करते हुए पहुंचे और ताजियों को सुपुर्दे खाक किया।

Loading...
loading...

You may also like

ममता बनर्जी ने कोलकाता एयरपोर्ट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पत्नी जशोदाबेन से की मुलाकात

Loading... 🔊 Listen This News कोलकाता। पश्चिम बंगाल