मैनपुरी में प्रचार को लेकर बसपा सुप्रीमो से नाराज मुलायम

मैनपुरी चुनावमैनपुरी चुनाव

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के चुनावी दंगल में भाजपा को मात देने के लिए बसपा पार्टी की सुप्रीमो मायावती 1995 के गेस्‍ट हाउस कांड को भुलाकर अपने धुर विरोधी और सपा पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह के लिए वोट मांगती नजर आ सकती हैं। लोकसभा चुनाव में सूबे में एसपी, बीएसपी और आरएलडी के महागठबंधन को जीत दिलाने के लिए एसपी अध्‍यक्ष अखिलेश यादव और मायावती 12 रैलियां करेंगे।

ये भी पढ़ें :-धन की कमी से जूझ रहे जेट एयरवेज के पायलटों ने लिखी सरकार को चिठ्ठी

आपको बता दें गठबंधन प्रत्याशियों की जीत के लिए सपा मुखिया अखिलेश यादव, बसपा सुप्रीमो मायावती और रालोद प्रमुख चौधरी अजित सिंह उत्तर प्रदेश में 11 साझा रैलियां करेंगे। रैलियों की शुरुआत 7 अप्रैल को देवबंद से होगी और अंतिम साझा रैली 16 मई को वाराणसी में करने का फैसला किया गया है।

ये भी पढ़ें :-लोकसभा चुनाव 2019 भाजपा ने की चौकीदार अभियान की शुरुआत 

जानकारी के मुताबिक समाजवादी पार्टी ने महागठबंधन के चुनाव प्रचार का शेड्यूल तैयार किया है। इस शेड्यूल में रैलियों की संभावित तारीखें और स्‍थान निर्धारित किए गए हैं। बताया जा रहा है कि इस लिस्ट में 19 अप्रैल को मैनपुरी में रैली प्रस्तावित है। इस रैली में मुलायम सिंह यादव के साथ मंच पर बीएसपी सुप्रीमो मायावती भी नजर आ सकती हैं।

Loading...
loading...

You may also like

बीजेपी की बढ़ी चुनौती अमित के बाद अब कौन होगा पार्टी का नया ‘शाह’ ?

🔊 Listen This News नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव