अलवर: गौ तस्करी की अफवाह ने ली रकबर की जान, सीएम ने की हत्या की कड़ी निंदा

अलवर
Please Share This News To Other Peoples....

अलवर। देश में भीड़ द्वारा हत्या की घटानाएं कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। एक बार फिर गौरक्षा के नाम पर एक युवक को पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया गया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शुक्रवार की रात राजस्थान के अलवर जिले के रामगढ़ इलाके में गौतस्कारी को लेकर अफवाह फैली। जिसके बाद गुस्से भीड़ ने रकबर नाम के एक शख्स की पीट-पीटकर कर दी। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट भी इस मुद्दे पर टिपण्णी कर चुका है। वहीं पीएम नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार की रात को लोकसभा में कहा कि भीड़ की हिंसा को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

पढ़ें:- मॉब लिंचिंग की घटनाएं दुर्भाग्यपूर्ण, कानून-व्यवस्था राज्यों का विषय : राजनाथ 

अलवर पुलिस ने मृतकों की पुष्टि गाय तस्कर के रूप में नहीं की

बता दें कि इस मामले में पुलिस जांच में जुट गयी है और दोषियों की तलाश कर रही है। इस मामले में अलवर के एएसपी अनिल बेनिवाल ने कहा कि यह साफ नहीं है कि जिनकी हत्या हुई है। वह गाय तस्कर थे। शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है। हम दोषियों की पहचान कर रहे हैं। जल्द ही उनको गिरफ्तार कर लिया जाएगा। साथ ही पुलिस की तरफ से ये कहा गया है कि वह लोग गाय को खरीद कर ले जा रहे थे।

बताया जा रहा है कि हरियाणा के कोल गांव निवासी रकबर और उसका एक साथी असलम पैदल-पैदल दो गायों को लेकर जा रहे थे। इस दौरान अचानक उन्हें स्थानीय लोगों ने घेर लिया। जिसके बाद भीड़ उन पर टूट पड़ी वहीं असलम तो भीड़ से छूटकर भाग गये लेकिन अकबर को भीड़ ने मार डाला।

पढ़ें:- मॉब लिंचिंग व गोरक्षा से जुड़ी हिंसा पर केंद्र सरकार संसद में कानून बनाए : सुप्रीम कोर्ट 

सीएम वसुंधरा ने की निंदा

गौरक्षा के नाम पर हुई इस हत्या के राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे ने निंदा करते हुए ट्वीट किया कि अलवर में गो परिवहन से सम्बंधित वारदात में हुई नृशंस हत्या की मैं कड़े शब्दों में निंदा करती हूं। पुलिस मामला दर्ज कर दो संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ कर रही है। मैंने गृह मंत्री को जल्द से जल्द मामले की छानबीन कर दोषियों को कड़ी सजा दिलाने के निर्देश दिए हैं।

loading...

2 thoughts on “अलवर: गौ तस्करी की अफवाह ने ली रकबर की जान, सीएम ने की हत्या की कड़ी निंदा”

  1. जो सवांददाता इस खबर को कवर कर रहे है उनका नंबर दे।
    मेहरबानी होगी।
    या मेरे नम्बर 9990400020 पर सम्पर्क करें।

    1. वेबसाइट पर दिए गए नंबर पर संपर्क करिए, या मेल करिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *