नाना की डांट से क्षुब्ध छात्र ने की आत्महत्या, दूसरी ओर पत्नी के मायके जाने पर युवक ने लगाई फांसी

आत्महत्या
Please Share This News To Other Peoples....
लखनऊ। निगोहां के दो अलग-अलग इलाकों में दो युवको ने फांसी लगाकर जान दे दी। एक पत्नी मायके चली गयी तो इससे क्षुब्ध होकर ये कदम उठाया तो दूसरी घटना में एक छठवीं कक्षा के छात्र ने सिर्फ इस बात से नाराज होकर मौत को गले लगा लिया कि उसके नाना ने उसे डांट दिया था। दोनों ही मामलों में मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना स्थल की छानबीन करने के बाद शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

सप्ताह पहले हुई थी कहासुनी 

 पहली घटना भगवानपुर गांव की है। यहां के रहने वाले रामनिवास (35) का विवाह गुरबक्श खेडा बछरांवा के रहने वाले बुधई की बेटी फूलमती से कुछ वर्ष पूर्व हुआ था। परिवारीजनों के मुताबिक पति-पत्नी के बीच किसी बात को लेकर एक सप्ताह पूर्व कहासुनी हो गयी थी। इसके बाद पत्नी नाराज होकर अपने मायके चली गयी थी। बुधवार की रात को रामनिवास ने खाना खाकर सोने के लिए चला गया। गुरूवार सुबह उसका शव साड़ी फंदे से लटकता हुआ घर के बरामदे में मिला। रामनिवास घर वालों से अलग रहता था।

घरवालों ने पुलिस को किया सूचित 

घरवालों ने घटना की सूचना गुरुवार निगोहां पुलिस को दी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वही, दूसरी घटना जवाहरखेड़ा गावं में हुई। यहां के रहने वाले रामशंकर ने अपनी बेटी का विवाह इचौली में किया था। ससुराल में अच्छे स बन्ध न हो पाने के कारण रामशंकर की बेटी अपने दो बच्चों आयुष (12) व दो साल की एक बेटी के साथ अपनें मायके जवाहरखेड़ा गांव में रहती थी। किसी बात को लेकर मृतक के नाना रामशंकर ने आयुष को डाट दिया था। पुलिस का कहना है कि इसी बात से क्षुब्ध होकर आयुष ने साड़ी के फंदे के सहारे घर में आत्महत्या कर ली। सूचना मिलने पर मौके पर पुलिस पहुची और  शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक आयुष कक्षा-6 का छात्र था।

आत्महत्या से पहले तेज़ आवाज में बजाय गाना

ग्रामीणों ने बताया कि बुधवार रात जब राम निवास घर आया तो पहले तेज आवाज में गाना बजा दिया था। देर रात एक दम से आवाज बन्द हो गई। सुबह जब भाई जगदीश राम निवास के बाहर न निकलने पर अंदर गया तो देखाकि भाई साड़ी के फंदे लटक रहा है।
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *