भारत की नदियों जैसी बुरी हालत दुनिया भर में कहीं नहीं: अखिलेश यादव

नदियोंनदियों

लखनऊ। देश में नदियों की सफाई का मुद्दा मोदी सरकार के लिए सिरदर्द बना हुआ है। नमामि गंगे जैसी परियोजनाओं से गंगा की सफाई की बात कहने वाली केंद्र सरकार बिलकुल नाकाम साबित हुई है। गंगा ही नहीं दूसरी नदियां भी और भी गंदी होती जा रही है जोकि जल संकट की एक चेतावनी है। वहीं इस मुद्दे पर विपक्ष भी सरकार के खिलाफ हमलावर दिखायी पड़ रहा है। इस मुद्दे पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने भाजपा पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि दुनिया भर में भारत जैसी नदियों की दुर्दशा कहीं देखने को नहीं मिलती है।

पढ़ें:- शिवसेना बोली मोदी सरकार 2019 का न करे इंतजार, भारत को हिंदू राष्ट्र करें घोषित 

नदियों के मुद्दे पर अखिलेश का भाजपा पर बड़ा हमला

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने नदियों की स्थिति पर चिंता जताते हुए कहा कि दुनिया में कहीं भी भारत जैसी नदियों की दुर्दशा देखने को नहीं मिलती है। साथ ही अखिलेश ने सपा कार्यकर्ताओं से नदी में बढ़ते प्रदूषण और नौजवानों में बढ़ती कुंठा पर कहा कि उनकी सरकार ने गोमती और वरूणा की सफाई के लिए कई कदम उठाए थे। गोमती रिवर फ्रंट का आकर्षण बढ़ गया था। योगी सरकार को आड़े हाथ लेते हुए उन्होंने कहा कि वर्तमान में योगी सरकार में गंगा सफाई के नाम पर अच्छा खासा बजट तो दिया जा रहा है। लेकिन जमींनी तौर पर कुछ खास कार्य नहीं हो रहा है। सिर्फ जनता को बहकाया जा रहा है।

पढ़ें:- बाबरी मस्जिद को हिंदू तालिबान ने किया नष्ट : सुन्नी वक्फ बोर्ड 

आचमन लायक भी नहीं रहा का पानी

सपोया प्रमुख ने कहा कि यूपी की नदियों और तालाबों में जलकुम्भी का ही बोलबाला है। इस नदियों का पानी आचमन लायक भी नहीं रहा गया है। उन्होंने कहा कि दुनिया के किसी देश में नदी की ऐसी दुर्दशा देखने को नहीं मिलती। जबकि भारत में तो नदी को पूजते तक जाता है। मानव सभ्यता के विकास में नदियों की सदियों से महत्वपूर्ण भूमिका रही है। लेकिन भाजपा सरकारों की संवेदन शून्यता का ही नतीजा है कि नदियां मर रही हैं।

loading...
Loading...

You may also like

BJP की कमल संदेश यात्रा के दौरान बाल-बाल बचे डिप्टी सीएम

लखनऊ। आज प्रदेश भर में भारतीय जनता पार्टी