अब “वायरस” से कंप्यूटर की स्पीड घटेगी नहीं, बल्कि और बढ़ेगी

- in अंतर्राष्ट्रीय

वायरस शब्द का जिक्र होते ही दिमाग में दो ही चीजे आती है. पहली तो सूक्ष्मजीव वायरस, और दूसरा कंप्यूटर वायरस या ऐसे प्रोग्राम जो कंप्यूटर की स्पीड कम करने से लेकर उसे ठप करने तक की ताकत रखते हैं. आमतौर पर कंप्यूटर वायरस को कंप्यूटर के लिए बुरा ही माना जाता है लेकिन अब वैज्ञानिकों ने एक ऐसे वायरस की खोज कर ली है जो कंप्यूटर की स्पीड और मेमोरी को घटाएगा नहीं बल्कि उल्टा बढ़ाएगा.

दरअसल यह वायरस कोई कंप्यूटर प्रोग्राम नहीं बल्कि एक असल वायरस याने एक असली सूक्ष्मजीव है. जी हाँ! दरअसल अमेरिका की एक प्रतिष्ठित विज्ञान एजेंसी ने हाल ही में पेश किये अपने एक जर्नल में वैज्ञानिकों के इस शोध को प्रकाशित किया है जिसके मुताबिक वैज्ञानिकों ने एम13 बैक्टीरियोफेज नाम के एक वायरस की मदद से कंप्यूटर सिस्टम की रफ़्तार तेज करने का तरीका खोज निकला है. 

वैज्ञानिकों  के मुताबिक एम13 बैक्टीरियोफेज वायरस नामक इस सूक्ष्मजीवकी मदद से कंप्यूटर के मिलीसेकेंड टाइम डिले को कम किया जा सकता है जिससे इसकी रफ़्तार तेज हो जाएगी.आपको बता दें कि मिलीसेकेंड टाइम डिले समय में हुई उस देरी को या उव समय को कहते है जो रैम यानी रैंडम एक्सेस मेमोरी और ड्राइव के बीच डाटा के ट्रांसफर होने के दौरान लगता है. 

loading...
Loading...

You may also like

जानें, ट्रंप के किस सपने का वै‍ज्ञानिक भी कर रहे हैं विरोध- सियासी ‘दीवार’ पर महासंग्राम

अमेरिका में मेक्सिको की सीमा पर दीवार निर्माण