साऊथ अफ्रीका से लखनऊ आये वृद्ध पर्यटक की हार्ट अटैक से मौत

- in क्राइम, लखनऊ
Demo pic

लखनऊ। साऊथ अफ्रीका से लखनऊ आये वृद्ध पर्यटक की हृदयघात से मौत हो गई। वृद्ध करीब 34 लोगों के गु्रप के साथ हसनगंज स्थित एक होटल में ठहरे थे। सोमवार शाम अचानक उनकी तबियत बिगड गई। लॉरी हास्पिटल में इलाज के बाद वह होटल लौट गए थे। देर रात अचानक फिर बिगड़ गई। परिजन वृद्ध पर्यटक को लेकर अस्पताल पहुंचते, उसके पहले ही वृद्ध की मौत हो चुकी थी।

थाना प्रभारी चौक ने बताया कि मंगलवार सुबह केजीएमयू से मेमो आया था। बकौल पुलिस साऊथ अफ्रीका डरबन निवासी 71 वर्षीय रवि मैथ्यू अपनी पत्नी भगवती मैथ्यू अपने गु्रप के साथ सोमवार को राजधानी पहुंचे थे। उनके ग्रुप में करीब 34 लोग हैं। शाम करीब 4.30 बजे उन्होंने हसनगंज इलाके में स्थित गोल्डन आर्किड के कमरा नं0 211 में ठहरे थे। शाम करीब 6 बजे अचानक वृद्ध के सीने में दर्द हुआ था।

पढे:- रिजर्व पुलिस लाइन में सिपाही की पत्नी समेत दो ने लगाई फांसी

परिजन और सहयोगी उन्हें विवेकानन्द हास्पिटल ले गए। जहां चिकित्सकों ने वृद्ध को लॉरी अस्पताल में रिफर कर दिया था। जहां इलाज के बाद वृद्ध की तबितय में सुधार हो गया था। इस पर परिजन वृद्ध पर्यटक को वापस होटल ले गए थे। देर रात अचानक से वृद्ध की तबियत फिर खराब हो गई थी। परिजन वृद्ध को लेकर लॉरी पहुंचे, लेकिन तब तक वृद्ध की सांसें थम चुकी थीं। अस्पताल पहुंचने पर चिकित्सक ने वृद्ध पर्यटक को मृत घोषित कर दिया। परिजनों का कहना है कि वृद्घ को पहले से ही हृदय की बीमारी थी, उनका इलाज भी चल रहा था। थाना प्रभारी चौक ने बताया कि शव का बुधवार को पोस्टमार्टम किया जायेगा।

पुलिसकर्मियों को उनका हक मिले: डॉ0 अनिल सिंह

लखनऊ। पुलिस कर्मियों की समस्याओं के निराकरण के लिये सेना का एक प्रतिनिधि मण्डल ने मंगलवार को डीजीपी से मुलाकात की। शिवसेना राज्य प्रमुख डॉ0 अनिल सिंह ने नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मण्डल ने डीजीपी ओपी सिंह से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। जिसमें उ0 प्र0 पुलिस कर्मियों की विभिन्न समस्याओं पर चर्चा करते हुए महंगाई भत्ता सहित आदि समस्याओं को डीजीपी को अवगत कराया।

जिसमें राज्य प्रमुख ने डीजीपी से प्रदेश में कानून व्यवस्था पर चर्चा करते हुए पुलिसकर्मियों की समस्याओं व मांगों पर ध्यानाकर्षित किया। मुख्य रूप से पुलिसकर्मियों को 100 किमी0 की परिधि में पोस्टिंग देने, शिक्षकों के समान वेतन, आठ घण्टें की ड्यिूटी का निर्धारण, आवास सहित अन्य भत्तों की मांग को पूर्ण करने की बात कही। डीजीपी ओपी सिंह ने सभी विषय पर पूर्ण सहयोग करने के साथ प्रदेश की कानून व्यवस्था को दुरूस्त करने का भी आश्वासन दिया तथा उन्होंने कहा कि उ0प्र0 में कानून व्यवस्था का राज्य स्थापित है। जो भी छोटी मोटी कर्मियों होगी उनको दुरूस्त किया जायेगा, किसी के साथ भेदभाव नहीं किया जायेगा।

loading...
Loading...

You may also like

अल्पसंख्यकों का उत्पीडऩ किसी भी सूरत में नहीं किया जाएगा बर्दाश्त- शिवपाल

लखनऊ। समाजवादी पार्टी से अलग होकर प्रगतिशील सपा